चक्रवाती हवाओं के साथ हुई मूसलाधार बारिश ने मचाई तबाही

मयंक भार्गव

बैतूल १४ जून ;अभी तक;  बीते तीन दिनों से हो रही बारिश के बाद रविवार को दिन भर मौसम साफ रहा परंतु शाम ढलते ही जिला मुख्यालय बैतूल सहित जिले के अनेक क्षेत्रों में तेज हवाओं बादलों की गरज एवं बिजली की चमक के साथ मूसलाधार बारिश हुई। जिला मुख्यालय बैतूल में सायं 5 से 6 बजे तक हुई मूसलाधार बारिश ने पूरे शहर को तरबतर कर दिया। इधर आठनेर तहसील के सातनेर ग्राम में सायं 7 से रात्रि 8 बजे तक चक्र्रवाती हवाओं के साथ हुई मूसलाधार बारिश ने जमकर तबाही मचाई। तेज हवाओं से सातनेर नगर में माता मंदिर के पास स्थित बीएसएनएल का टॉवर, दर्जनों पेड़ तथा बिजली के खंबे धराशाही हो गए। जबकि दर्जनों घरों की छतों के टीन शेड एवं कवेलू उड़ गए। चक्रवाती हवाओं के साथ हुई मूसलाधार बारिश से सातनेर ग्राम में दहशत फैल गई।

घरों में भराया पानी

सातनेर ग्राम में रविवार सायं करीब 7 से रात्रि 8 बजे के दौरान चक्रवाती हवाओं के साथ मूसलाधार बारिश हुई। चक्रवाती हवाओं की रफ्तार इतनी तेज थी कि घरों की छतों पर पाइप से कसे हुए टीन शेड उड़ गए। साथ ही छतों के कवेलू भी उड़ गए। दर्जनों मकानों में बारिश का पानी भर जाने से घरेलू सामान अनाज, गीला हो गया।

विद्युत सप्लाई ठप्प

चक्रवाती हवाओं से सातनेर ग्राम सहित आसपास के क्षेत्र में दर्जन बिजली के खंबे गिर गए। साथ ही पेड़ों के गिरने से विद्युत लाइनें क्षतिग्रस्त हो गई जिससे सातनेर ग्राम में विद्युत सप्लाई ठप्प होने से ब्लेक आऊट की स्थिति निर्मित हो गई। इधर जिला मुख्यालय बैतूल में शाम को हुई बारिश के बाद बार-बार बिजली गुल होती रही।