चिकित्सक की लापरवाही भुगत रहे पिंडरई वासी, स्वास्थ्य व्यवस्था बदहाल, संबंधित नहीं दे रहे ध्यान

10:08 pm or May 3, 2022

प्रहलाद कछवाहा

मंडला ३ मई ;अभी तक;  जनपद पंचायत नैनपुर के पंचायत पिंडरई उप स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ चिकित्सक की मनमानी बढ़ती जा रही है। लगातार शासन प्रशासन को इसकी जानकारी होने के बाद भी इस और कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। पिंडरई उपस्वास्थ्य केन्द्र में पदस्थ मेडिकल आफिसर अक्सर यहां अनुपस्थित रहते है। जबकि इस उप स्वास्थ्य केन्द्र े करीब 40 ग्रामों के लोग उपचार के लिए आते है। यहां चिकित्सक की अनुपस्थिति के कारण ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। यहां पदस्थ चिकित्सक की मनमानी के कारण क्षेत्र के झोलाछाप डॉक्टरों के हौंसले बुलंद होते जा रहे है। जिससे मरीजों की जान खतरे में बनी रहती है।

ग्रामीणों का कहना है कि इस समस्या की लगातार स्वास्थ्य विभाग  में शिकायत के साथ ज्ञापन भी दिया गया, लेकिन इस समस्या का कोई समाधान नहीं निकल पा रहा है। जिसके चलते लोगों को इलाज कराने के लिए 30 किमी से 50 किमी तक की दूरी तय करनी पड़ती है।  इस समस्या को लेकर जब जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. श्रीनाथ सिंह से बात की गई तो उनका कहना था कि इस विषय में कार्रवाई करूंगा, वहीं मेडिकल ऑफिसर के मनमाने रवैये के विषय में जानकारी ना होना बताया गया।

बता दे कि मेडिकल ऑफिसर की मानमानी से मरीजों की जान से लगातार खिलवाड़ हो रहा है। आज स्वास्थ्य विभाग की अव्यवस्था लोगों को अपनी आगोश में भरने को तैयार है। विगत कुछ दिवस पहले पिंडरई में ही एक झोलाछाप डॉक्टर द्वारा गांव के एक मरीज को गलत इंजेक्शन लगा देने की वजह से उस मरीज की जान आफत में आ गई थी। करीब 8 घंटे बेहोश होने के बाद जबलपुर रेफर कर उसे होश में लाया गया। यह अनहोनी एक बहुत बड़ी दुर्घटना को आमंत्रण दे सकती थी। लेकिन स्वास्थ्य विभाग ना तो पिंडरई क्षेत्र की स्वास्थ्य व्यवस्था को सुधारने में रूचि नहीं ले रहे है। जिसके कारण यहां झोला छाप डॉक्टरों और यहां पदस्थ मेडिकल ऑफिसर की मनमानी चल रही है।

इनका कहना है
दो तीन जिलों का केवल एक ही ड्रग इंस्पेक्टर है, ड्रग इंस्पेक्टर की कमी के कारण झोलाछाप के ऊपर लगाम नहीं लगाई पा रही है। वहीं उप स्वास्थ्य केन्द्र में पदस्थत चिकित्सक की अनुपस्थिति पर में उचित कार्यवाही करूंगा।
डॉ. श्रीनाथ सिंह, सीएमएचओ, मंडला

वह एरिया मेरे अंदर में जरूर आता है लेकिन में इस विषय में कुछ नहीं कह सकता एवं मीडिया को जो लिखना है वह लिख सकता है, आगे की जानकारी सीएमएचओ द्वारा दी जाएगी।
डॉ.नीरज राज धुर्वे, मेडिकल ऑफिसर, उप स्वास्थ्य केंद्र, पिंडरई