चितरंगी जनपद सीईओ की फिसली जुबान, भड़के उपयंत्री, उपयंत्रियों में आक्रोश

एस पी वर्मा 

सिंगरौली ७  नवंबर,अभीतक –       चितरंगी जनपद पंचायत के नवागत सीईओ द्वारा गत दिवस लक्ष्य प्राप्ति हेतु  जनपद पंचायत के सभागार में उपयंत्री व पंचायत सचिव तथा रोजगार सहायकों की बैठक लेने के दौरान  आपा खोते हुए  अजीबो गरीब धमकियां देने से सभी उपयंत्री नाराज हो  बैठक का बहिष्कार कर दिए। उपयंत्रियों के कड़े तेवर देख सीईओ साहब को अपनी गलती का एहसास हुआ और सभी को किसी तरह से मनाया तब जाकर कही बैठक हो पाया। लेकिन इससे पहले पहली बार बैठक ले रहे सीईओ साहब के बड़बोलेपन की चर्चाएं आम हो गयी।
                 जानकारी के अनुसार जनपद पंचायत के सभागार में 4 नवंबर  बुधवार को नवागत जनपद सीईओ सुलाभ सिंह पोयाम उपयंत्रियों, पंचायत सचिवों व रोजगार सहायकों की बैठक ले रहे थे। बैठक में नवागत सीईओ का तेवर देखने लायक था। आलम यह था कि योजनाओं के शत-प्रतिशत क्रियान्वयन व लक्ष्य प्राप्त के लिए कड़ी हिदायत देते हुए अपना आपा खो बैठे और उन्होंने कड़े शब्दों में कहा कि यदि लक्ष्य की प्रगति संतोषजनक नहीं रहा तो उपयंत्रियों के साथ-साथ सचिव व रोजगार सहायकों को उल्टा लटका दिया जायेगा। जनपद सीईओ की जुबान फिसलते ही उपयंत्री नाराज होकर बाहर आते हुए बैठक का बहिष्कार कर दिये। वहीं पंचायत सचिवों व कई रोजगार सहायकों ने सीईओं के इस कथन से भारी नाराजगी जाहिर करते हुए दबी जुबान से विरोध करने लगे। जबकि कई उपयंत्रियों ने खुला मोर्चा खोल दिया। मामला जब गरमाने लगा तो सीईओ कन्ट्रोल डेमेज में लग गये। वहीं उपयंत्री, पंचायत सचिव व कई रोजगार सहायकों ने साफ शब्दों में कहा कि अपनी वाहवाही लेने ऐसे शब्दों का इस्तेमाल किया है यह ठीक नहीं है। यदि कोई भी सेवक कार्य के प्रति लापरवाही बरतता है तो उस पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का प्रावधान है न कि उल्टा लटका देने का। फिलहाल मामला जो भी हो, लेकिन सीईओ की अचानक जुबान फिसलने के बाद मामला तूल पकड़ा हुआ है। उधर सीईओ अपने बयान पर यू टर्न लिया है।
*बयान पर सीईओ ने लिया यू टर्न*
                  जनपद पंचायत के सभागार में बुधवार को आयोजित उपयंत्री, पंचायत सचिव व रोजगार सहायकों की बैठक में सीईओ का अजीबो गरीब बयान का मामला जब तूल पकड़ा तो उन्होनें नजाकत को भांप लिया और कुछ देर बाद मान मुनौवल करना शुरू कर दिये। उन्हें ऐहसास हो गया कि ज्यादा बड़बोलापन कहीं भारी न पड़ जाय। उन्होंने तत्काल सहायक यंत्री के माध्यम से उपयंत्रियों के मान मुनौवल में जुट गये। अंतिम समय में उन्होंने अपने बयान पर यू टर्न ले लिया।
*बैठक में गैरहाजिर सचिव व उपयंत्रियों को नोटिस*
                 जनपद पंचायत के सभागार में बुधवार को संपन्न हुई बैठक में कुछ उपयंत्री व पंचायत सचिव तथा रोजगार सहायक गैरहाजिर थे। जिस पर जनपद पंचायत चितरंगी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुलाभ सिंह ने अल्टीमेटम देते हुए गैरहाजिर अमले को नोटिस जारी करने के लिए फरमान सुना दिया। वहीं जानकारी के अनुसार बैठक में गैरहाजिर दो उपयंत्री तथा दो दर्जन पंचायत सचिव व रोजगार सहायकों को गुरूवार को नोटिस जारी कर बैठक से नदारत रहने का कारण पूछा गया है। हालांकि कई ऐसे सचिव व रोजगार सहायक हैं जो अधिकांश बैठकों से दूरी बनाये रहते थे। नवागत जनपद सीईओ ने ऐसे लापरवाह कर्मियों को भाप लिया। जहां बैठक में लापरवाहों को नसीहत देते हुए संतोषजनक कार्य करने की हिदायत शायद क्षेत्रीय जनपद के कर्मचारियों को नागवार लग गया और सीईओ के कथन पर आपत्ति जताने लगे।
इनका कहना है
बैठक में कुछ बोल दिया गया था यह आपसी मामला है। सभी के साथ बैठकर बातचीत कर मामले को सुलझा लिया गया है।
सुलाभ सिंह पोयाम
सीईओ
जनपद पंचायत चितरंगी

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *