छठवीं बार मिला इंदौर को स्वच्छतम शहर का खिताब

8:12 pm or October 1, 2022

भोपाल एक अक्टूबर ;अभी तक; मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वच्छता क्षेत्र में बेस्ट परफार्मिंग प्रदेश के रूप में मध्यप्रदेश के चयन को बड़ी उपलब्धि बताया है। मुख्यमंत्री ने देश के स्वच्छतम शहर के रूप में निरंतर छठवीं बार इन्दौर के चयन की उपलब्धि को सभी प्रदेशवासियों के लिए गर्व का विषय बताया है। उन्होंने कहा कि स्वच्छता क्षेत्र की यह उपलब्धियाँ हमारे लिए गर्व की वजह बनी हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मध्यप्रदेश को इस क्षेत्र में बेहतर कार्य के लिए चयनित होने और प्रदेश के सबसे बड़े नगर और प्रदेश की व्यावसायिक राजधानी इन्दौर को स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 में देश के स्वच्छतम शहर के रूप में चुने जाने पर सभी प्रदेशवासियों को बधाई दी है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 में 100 से अधिक शहरों वाले राज्यों की श्रेणी में मध्यप्रदेश को सबसे स्वच्छ राज्य बनने का गौरव प्राप्त होने पर प्रदेश के नागरिकों का अभिनंदन करते हुए बधाई दी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का भी आभार मानते हैं जिन्होंने स्वच्छता के संकल्प पर निरंतर मार्गदर्शन प्रदान किया है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि विशेष रूप से इन्दौर की जनता बधाई की पात्र है जिसने शहर की मुख्य सड़कों के साथ-साथ गलियों और सभी वार्डों में स्वच्छता को प्राथमिकता दी। इंदौर में भिन्न-भिन्न तरह के कचरे के एकत्रीकरण और निपटान की आदर्श व्यवस्था की गई है। ऐसे ही प्रयासों से इन्दौर यह गौरवपूर्ण उपलब्धि अर्जित कर पाया है। इसके लिए इन्दौर की आम जनता, जन-प्रतिनिधि और टीम मध्यप्रदेश के सभी सदस्य भी बधाई के पात्र हैं।

जनता और सरकार के साथ मिलकर कार्य करने से तो मिलते हैं अच्छे परिणाम

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कहा भी गया है कि, मार्गे स्वच्छता विराजते, ग्रामे सुजना: विराजते, अर्थात सड़क पर सफाई की स्थिति देख कर यह ज्ञात होता है कि गाँव में स्वच्छ लोग रहते हैं। स्वच्छता हमारा संकल्प भी है और जीवन-शैली भी। मध्यप्रदेश इस क्षेत्र में नए मानक स्थापित कर अन्य राज्यों के लिए उदाहरण बन रहा है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नागरिकों की आधारभूत जरूरतें पूरी करना सरकार का धर्म है। आजादी के अमृत महोत्सव पर हम एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में अपनी भूमिका निभाएं, इसके लिए संकल्प लेने का यह स्वर्णिम अवसर है। स्वच्छता सहित पानी बचाओ, पेड़ लगाओ, ऊर्जा संरक्षण, नशामुक्ति अभियान में सहयोग और बेटी बचाने और उन्हें प्रोत्साहित करने के कार्य में सभी नागरिकों को सेसाथ मिलकर काम करने का आग्रह है। मध्यप्रदेश स्वच्छता के साथ ही इन प्राथमिक क्षेत्रों में भी अच्छे कार्यों से पहचान बना रहा है। प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में एक भारत और श्रेष्ठ भारत आकार ले रहा है जिसमें मध्यप्रदेश के निवासी अधिक से अधिक योगदान दे रहे हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर सहित प्रदेश के नगरीय निकायों के अधिकारियों, कर्मचारियों, स्वच्छता मित्रों, स्वच्छता कार्यों में संलग्न सेवाभावियों, सामाजिक संगठनों, जन-प्रतिनिधियों को भी बधाई दी है।