छठवीं राज्य स्तरीय कुडो प्रतियोगिता में सिंगरौली का  उत्कृष्ट प्रदर्शन, सिंगरौली को मिले 1 स्वर्ण सहित पांच पदक 

9:08 pm or January 15, 2022
एस पी वर्मा
सिंगरौली १५ जनवरी ;अभी तक;  मध्यप्रदेश के सागर स्थित दीपक मेमोरियल अकादमी में आयोजित तीन दिवसीय छठवीं राज्य स्तरीय कुडो प्रतियोगिता में पहली बार शामिल सिंगरौली जिले के खिलाड़ियों ने  उत्कृष्ट प्रदर्शन कते हुए  एक गोल्ड सहित पांच मेडल झटक कर जिले का मान बढ़ाया। खिलाड़ियों के इस सफलता पर मार्शल आर्ट (कराटे ) के सभी खिलाड़ियों के साथ तमाम खेल प्रेमी व  क्षेत्र वासियों ने  बधाई संप्रेषित की है।
     उक्ताशय की जानकारी में सिंगरौली कुडो  एसोसिएशन के सचिव श्वाले खान ने बताया कि मध्यप्रदेश के सागर जिले में 1 से 3 जनवरी तक आयोजित छठवीं राज्य स्तरीय (कराटे) कुडो प्रतियोगिता में सिंगरौली कुडो एसोसिएशन के बैनर तले सिंगरौली स जिले से 12 सदस्यीय खिलाड़ियों का दल शामिल हुए था ,जहां प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए 5 खिलाड़ियों ने पदक अर्जित कर जिले का मान बढ़ाया। सचिव श्री खान के अनुसार उक्त कुडो प्रतियोगिता में विभिन्न उम्र व वजन  वर्ग का  प्रतिस्पर्धा आयोजित था, जहां  21 से 40 वर्ष के उम्र वर्ग में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए उत्तम सिंह ने पहला स्वर्ण अर्जित किया। 16 से 19  वर्ष के उम्र वर्ग में अनामिका पटेल सिल्वर, 19 से 21 वर्ष वर्ग में ब्रांज, रामा शंकर शाह ब्रांज  व 21 से 40 वर्ष के उम्र वर्ग में विंध्याचल पनिका ने भी ब्रांज हासिल किया। सचिव श्री खान के अनुसार सागर जिला कुडो संघ के हांशी मेहुल वोरा के देख रेख मे सागर में ही  प्रथम कुडो प्रशिक्षण शिविर का भी आयोजन किया गया था जिसमे में  शामिल हो कोच व खिलाड़ियों ने अपने मार्शल आर्ट के ज्ञान को बढ़ाया। कुडो राज्य स्तरीय  प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन  व प्रशिक्षण  शिविर में के उपरांत गत दिवस सभी खिलाड़ी वापस आएं जिनका जोरदार स्वागत के साथ विजेता खिलाड़ियों को  जिले के कराटे संस्थापक अरविंद मिश्रा, सिंगरौली कराटे एसोसिएशन के अध्यक्ष शिवेंद्र सिंह ददोली, उपाध्यक्ष संतोष वर्मा , अर्जुन गुप्ता, मोहन सिंह, परमानंद चौरसिया, संयुक्त सचिव भोला वर्मा, एसपी वर्मा, कोषाध्यक्ष कमलेश गुप्ता, अजय बंसल, रियाज खान, आकेश वर्मा , संजय शाह, रिंकू शाह, सुषमा शाह, नीलम त्रिपाठी आदि पदाधिकारी, कराटे प्रशिक्षक व खिलाड़ियों ने बधाई दी।