छलनी हो रही नदियों को लेकर न्‍यायालय में लगाएंगे याचिका ;विवेक तन्‍खा

भिण्‍ड से डॉ. रविशर्मा:

भिंड 7 सितम्बर ;अभी तक;  भाजपा के कुप्रबंधन के चलते नदियों का जो हाल हो रहा है उसके खिलाफ न्‍यायालय में याचिका दायर कराएंगे। मामले की सुनवाई के दौरान पैरवी मैं स्‍वयं करूंगा।

यह बात पत्रकारों से चर्चा में राज्‍यसभा सदस्‍य विवेक तन्‍खा ने कही। उन्‍होंने भोपाल निवासी अधिवक्‍ता अजय गुप्‍ता की ओर इशारा करते हुए कहा कि इसके लिए अभी के अभी इन्‍हें अधिवक्‍ता नियुक्‍त करता हूं। उन्‍होंने कहा कि डॉ. गोविंद सिंह ने जो नदी बचाओ सत्‍याग्रह छेड़ा है वह भिण्‍उ के लिया या देश के लिए ही नहीं बल्कि विश्‍व के लिए महत्‍वपूर्ण है। पानी को लेकर बड़ी सोच रखने वाले भारत की बड़ी सोच रखने वाले भारत की बड़ी शख्सियत तपन विश्‍वास  जो कि इन दिनों अमरीका में है ने चार-पांच दिन पूर्व व्‍यक्तिगत रूप से कहा कि जल संरक्षण नहीं करने के कारण अगला विश्‍वयुद्ध पानी के लिए होगा। विवेक तन्‍खा ने कहा कि अगर कोई राजनीतिक कार्यक्रम होता तो इन दिनों शामिल नहीं होता। यह सामाजिक पृष्‍ठभूमि का कार्यक्रम है, इसलिए कोरोना संक्रमण का खतरा होने के बावजूद शरीक हुआ हूं।

भाजपा ने प्रदेश में फैलाया संक्रमण:- कोरोनाकाल में अस्‍पतालों की अव्‍यवस्‍था पर उन्‍होंने कहा कि मरीज यदि अस्‍पताल के वार्ड में भर्ती है तो परिजन को यह पता नहीं लग पा रहा है कि उसके साथ क्‍या हो रहा है। अस्‍पतालों में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगवाने पर उन्‍होंने प्रदेश सरकार पर सवाल उठाए। उन्‍होंने कहा कि सरकार के पास प्रदेश के अस्‍पतालों को दुरुस्‍त करने के लिए बड़ा मौका है। बावजूद इसके लिए प्रयास नहीं किए जा रहे। जिस प्रकार से भाजपा ने संक्रमण काल को मजाक समझा, सरकार गिराई और चलाई तथा रैलियां की उसमें संक्रमण फैलाने के लिए भाजपा को दोषी मानता हूं। प्रदेश में भाजपा ने संक्रमण फैलाया है। प्रदेश में कोरोना से हो रही मौत के लिए भाजपा को जिम्‍मेदार मानता हूं। अंत में उनहोंने कहा कि जब भाजपा के कार्यक्रम होते हैं तो भीड़ जमा होती है और जब कमलनाथ के कार्यक्रम होते हैं तो धारा 144 लगा दी जाती है। उन्‍होंने कहा यह राजनीति का वक्‍त नहीं लोकसेवा का समय है।

डॉ. सिंह बोले- बहन के अंतिम संस्‍कार में भी नहीं गया:- वि‍दित हो कि 05 सितंबर की  देर रात पूर्व मंत्री एवं विधायक डॉ. गोविंद सिंह की छोटी बहन विमला जादौन की ग्‍वालियर में ह्दय सर्जरी के दौरान मौत हो गई है। ऐसे में डॉ. गोविंद सिंह ने अपने बेटे अमित प्रताप एवं परिवार के अन्‍य सदस्‍यों को विमला जादौन के अंतिम संस्‍कार में शामिल होने के लिए रवाना कर दिया, लेकिन खुद नहीं जा सके। डॉ. सिंह ने कहा कि बड़ी संख्‍या में क्षेत्र के लोगों की इस सत्‍याग्रह पर आस्‍था है। ऐसे में अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए सत्‍याग्रह अधर में छोड़ उनकी आस्‍था को ठेस नहीं पहुंचा सकता था।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *