छात्र से अश्लील हरकत करने वाला रीवा जिले के कोच अटेंडर दंडित 3 साल की कैद, 4 हजार का अर्थदंड

अरुण त्रिपाठी

रतलाम,15 सितंबर १५ सितम्बर ;अभी तक; जिला न्यायालय में मंगलवार देर शाम पॉक्सो मामलों के विशेष न्यायाधीश योगेंद्र कुमार त्यागी ने ट्रेन के कोच अटेंडर को छात्र से अश्लील हरकत करने का आरोप सिद्ध होने पर तीन साल कारावास और चार हजार रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई। कोच अटेंडर ने मुंबई से टूर पर राजस्थान गए छात्रों के दल में शामिल सदस्य से ट्रेन से वापस लौटते समय रात्रि में रतलाम के पास अश्लील हरकत की थी। इसकी रिपोर्ट मुंबई पहुंचकर दर्ज कराई गई थी।

विशेष लोक अभियोजक गौतम परमार ने बताया मुंबई के निजी स्कूल के 32 छात्र स्कूल के दो शिक्षक और 4 टूर कंडक्टरों के साथ ा 23 जनवरी 2015 को शैक्षणिक यात्रा पर राजस्थान के जोधपुर, जैसलमेर, बीकानेर और जयपुर गए थे। 29 जनवरी को वापसी में जयपुर-मुंबई सुपरफास्ट ट्रेन के कोच बी-2, बी-3 एवं बी-5 में सवार थे। सुबह छात्र ने शिक्षक को बताया कि रात में सोते समय करीब 1ः30 से 1ः45 बजे के बीच एक व्यक्ति ने पेंट की चेन खोलकर अश्लील हरकत की। उसके जागने पर वह भाग गया। दो अन्य छात्रों ने  नागदा के पास रात 10 बजे अटेंडर द्वारा अश्लील हरकत किए जाने की जानकारी दी।  शिक्षक और छात्रों द्वारा ढूंढने पर कोच अटेंडर कैबिन में सोता मिला। छात्रों ने उसे पहचान लिया। शर्ट पर लगी नेम प्लेट पर उसका नाम बृजेश पाण्डे लिखा था।

बाद में शिक्षक की मदद से कोच अटेंडर बृजेश पिता चंद्रिका प्रसाद पाण्डे (29) निवासी खेमरिया जिला रीवा को पुलिस को सौंपकर मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर रिपोर्ट दर्ज करवाई गई। घटना स्थल रतलाम क्षेत्र का होने से मुंबई पुलिस ने आरोपी के साथ 30 जनवरी 2015 को उक्त प्रकरण रतलाम भेज दिया। रेलवे पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर 7 मई 2015 को चालान पेश कर दिया था। न्यायालय में आरोप सिद्ध होने पर आरोपी को पॉक्सो  एक्ट की धारा 7-8 के तहत दंडित किया। प्रकरण में अभियोजन पक्ष की पैरवी विशेष लोक अभियोजक अनिल बादल एवं गौतम परमार ने की।
———————–