जनवरी-फरवरी 2023 में बालाघाट में होगी महिला फुटबाल की राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता

7:19 pm or November 17, 2022

आनंद ताम्रकार

बालाघाट १७ नवंबर ;अभी तक;        प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के खेलो इंडिया अभियान के अंतर्गत आगामी जनवरी-फरवरी 2023 में बालाघाट में महिला फुटबाल की राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा। इस आयोजन की तैयारी को लेकर आज 17 नवंबर को कलेक्टर डॉ गिरीश कुमार मिश्रा की अध्यक्षता में अधिकारियों एवं होटल मालिकों की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री समीर सौरभ, वन मंडलाधिकारी श्री ग्रजेश वरकड़े, जिला परिवहन अधिकारी श्री अनिमेष गढ़पाल, जिला खेल अधिकारी श्री जमील अहमद, पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड के अधीक्षण यंत्री श्री एम ए कुरैशी, जिला शिक्षा अधिकारी श्री अश्विनी उपाध्याय, स्वास्थ्य विभाग से डॉ परेश उपलप, लोक निर्माण विभाग के अनुविभागीय अधिकारी श्री मनीष ठाकुर, पीजी कालेज के खेल अधिकारी श्री डी एस सोंधी, वन विभाग के एसडीओ श्री प्रशांत साखरे, पुलिस हाउसिंग के कार्यपालन यंत्री एवं एसडीओ, अन्य अधिकारी एवं होटल मालिक उपस्थित थे।

       बैठक में बताया गया कि खेलो इंडिया अभियान के अंतर्गत मध्यप्रदेश के 08 जिलों में राष्ट्रीय स्तर की खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाना है। यह सौभाग्य की बात है कि प्रदेश के इन 08 स्थानों में बालाघाट जिले को भी शामिल किया गया है। बालाघाट में 31 जनवरी से 11 फरवरी 2023 के बीच महिला फुटबाल प्रतियोगिता का आयोजन होगा। इस प्रतियोगिता में शामिल होने 200 से अधिक खिलाड़ी बालाघाट आयेंगी। खिलाड़ियों के आने से लेकर प्रतियोगिता के समापन तक उनके रहने, भोजन, खेल अभ्यास, स्वास्थ्य, सुरक्षा, आवागमन की सुविधा आदि के इंतजाम पर बैठक में विस्तार से चर्चा की गई। इस आयोजन के लिए पुलिस हाउसिंग को अधोसंरचना तैयार करने का जिम्मा दिया गया है। इस प्रतियोगिता के लिए मुलना स्टेडियम, रेंजर्स कालेज का ग्राउंड एवं उत्कृष्ट विद्यालय के ग्राउंड का चयन किया गया है। इन खेल मैदानों पर प्रतियोगिता के लिए जरूरी सुधार एवं मरम्मत का कार्य कराया जायेगा।

       बैठक में पुलिस हाउसिंग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया ‍कि वे टेंडर के अनुसार ठेकेदार को कार्य आदेश देकर अधोसंरचना विकास का कार्य शीघ्र प्रारंभ करायें। सभी होटल मालिकों से कहा गया कि वे इस प्रतियोगिता के आयोजन की तिथियों में कोई बुकिंग आदि न लें और अपने होटल में सीसीटीव्ही कैमरे लगवा लें। होटल में खिलाड़ियों एवं अन्य लोगों के ठहरने का भुगतान किया जायेगा। परिवहन अधिकारी से कहा गया कि वे प्रतियोगिता के दौरान खिलाड़ियों के आने-जाने के लिए अच्छी बसों का इंतजाम करायें। स्वास्थ्य विभाग से कहा गया कि प्रतियोगिता के दौरान अस्पताल में आईसीयू एवं खाली बेड आपात स्थिति के लिए तैयार रखें।

       बालाघाट में होने वाली इस प्रतियोगिता को देखने के लिए अधिक से अधिक लोग आ सकें इसके लिए इसका व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार करने एवं इसमें समाज के हर वर्ग की भागीदारी तय करने का निर्णय लिया गया। इस प्रतियोगिता के दौरान स्थानीय लोक संस्कृति एवं नृत्यों का प्रदर्शन भी किया जायेगा। इसके लिए आदिवासी विकास विभाग के अधिकारी को तैयारी करने के निर्देश दिये गये।