जमीन के लिए भतीजे ने चाचा को उतारा मौत के घाट

9:01 pm or June 21, 2021
जमीन के लिए भतीजे ने चाचा को उतारा मौत के घाट

मयंक भार्गव

बैतूल २१ जून ;अभी तक;  जमीनी विवाद में एक भतीजे ने अपने ही चाचा की कुल्हाड़ी से नृशंस कर डाली। सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद  मौके पर पहुंची और मातहतों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। यह घटना जिला मुख्यालय से करीब 40 किलोमीटर दूर बीजादेही थाने के अंतर्गत घटित हुई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बीजादेही थाना प्रभारी बीएल उइके ने बताया कि थाना क्षेत्र के तारा गांव में जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षो में खूनी संघर्ष हो गया जिसमें एक बुजुर्ग की हत्या कर दी। घटना की जानकारी लगने के बाद पुलिस अधीक्षक सीमाला प्रसाद तारा गांव पहुंची और घटना स्थल का निरीक्षण किया है।
बीजादेही थाना प्रभारी बीएल उइके ने बताया कि ग्राम तारा निवासी बालाराम यादव और अनन्तराम राम यादव व उनकी बहन तीनों का जमीनी बंटवारे को लेकर विवाद चल रहा था जिसमे बलराम यादव ने न्यायालय से स्टे लिया हुआ था। सोमवार जब अनन्तराम का लड़का नारायण यादव बाजू वाली बालाराम की विवादित जमीन पर ट्रैक्टर चलाने लगा था जिसे रोकने के लिए दोनो परिवारों के लोगों में विवाद हो गया था। देखते ही देखते दोनों परिवारों के बीच लाठी, डंडे और कुल्हाड़ी से मारपीट शुरू हो गई। इस दौरान नारायण यादव ने अपने चाचा बालाराम यादव (50) निवासी तारा पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया जिसमे बालाराम की मौत हो गई थी।  इस खूनी संघर्ष में में करीब 10 लोग घायल हुए थे जिनका इलाज चिचोली में चल रहा है। कुछ लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायलों में मृतक के तीन पुत्र लखन, माखन और रमेश यादव सहित दो बहु झल्लो बाई और कमलती घायल हुई है। वहीं आरोपी पक्ष में बल्लू उर्फ बलराम, विनोद, मनोहर, नारायण, अनन्तराम, सुगनती घायल हुए है, इनका इलाज भी चिचोली और जिला अस्पताल में चल रहा है। घटना की जानकारी लगते ही पुलिस अधीक्षक सीमाला प्रसाद, शाहपुर एसडीओपी महेंद्र सिंह मीणा और एफएसएल की टीम पहुंची। पुलिस अधीक्षक ने घटनानस्थल का निरीक्षण कर थाना प्रभारी को उचित दिशा निर्देश दिए है। बीजदेही पुलिस ने बालाराम व उसके परिवार पर 302 का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।