जय हो ब्लड डोनेशन टीम 25 व्हाट्सएप्प गु्रप के माध्यम से जरूरतमंदों को उपलब्ध करवा रही है ब्लड 

महावीर अग्रवाल
मन्दसौर १४ जून ;अभी तक;  विश्व रक्तदाता दिवस के शुभ अवसर पर जय हो ब्लड डोनेशन टीम के संस्थापक सुनील सूर्यवंशी द्वारा सभी रक्तदाता को शुभकामनाये प्रेषित करते हुए आग्रह वेक्सीन लगवाने से पूर्व रक्तदान अवश्य करे व नियमित रूप से भी रक्तदान करते रहिए।
                   सूर्यवंशी ने बताया कि रक्तदान से कोई कमजोरी नहीं आती है, हर वो स्वस्थ व्यक्ति रक्तदान कर सकता जिनकी उम्र 18$ वजन 45 किलो हो। ब्लड यानी खून एक ऐसी चीज है जिसे बनाया ही नहीं जा सकता। इसकी आपूर्ति का कोई और विकल्प भी नहीं है। यह इंसान के शरीर में स्वयं ही बनता है। कई बार मरीजों के शरीर में खून की मात्रा इतनी कम हो जाती है कि उन्हें किसी और व्यक्ति से ब्लड लेने की आवश्यकता पड़ जाती है। ऐसी ही इमरजेंसी स्थिति में खून की आपूर्ति के लिए लोगों को रक्तदान के लिए जागरूक करके, अनगिनत जरूरतमंदों की जिंदगी बचाई जा सकती है।
                 सुनील सूर्यवंशी ने बताया कि मंदसौर शहर मे जय हो ब्लड डोनेशन टीम के 25 व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाये गए जिसके माध्यम से जरूरत मंद को ब्लड उपलब्ध करवाया जाता है। अगर मंदसौर शहर के बाहर भी किसी को इलाज के लिए जाना पड़ जाये और वहां रक्त की जरूरत होने पर वहां भी उस मरीज की मदद संस्था करती है। इंदौर, उज्जैन, उदयपुर, रतलाम, भोपाल भीलवाड़ा, चितौड,़ नीमच अहमदाबाद, सूरत मध्यप्रदेश राजस्थान गुजरात मे भी ब्लड की जरूरत को पूरा कर ने की कोशिश करती है। एक्सीडेंट, ऑपरेशन डिलेवरी केस मे सुनील सूर्यवंशी द्वारा तत्काल ब्लड बैंक मे कॉल करके ब्लड उपलब्ध करवाया जाता है। साथ ही अगर किसी के बच्चा या बच्ची को थैलेसीमिया मेजर जैसे रोग है तो आप घबराये नहीं आपकी मदद जय हो ब्लड डोनेशन टीम करेगी। थैलेसीमिया एक ऐसा रोक है जिसमे उस बच्चे या बच्ची को हर 21 दिन बाद ब्लड चढ़ता है ऐसे मे परिवार वाले परेशान ना हो हमारी संस्था से सम्पर्क करे। संस्था के सुनील सूर्यवंशी ने सभी से आग्रह किया है कि वे रक्तदान जरूर करे।