जल जीवन मिशन मतलब नल खोलते ही आम नागरिकों को पानी मिले- कलेक्टर श्री कुमार

12:55 pm or June 12, 2022
आशुतोष पुरोहित
खरगोन १२  जून ;अभी तक; /घरों, आँगनवाड़ियों और स्कूलों में जल प्रदाय करने वाली जल जीवन मिशन योजना को लेकर अब तक हुए कार्याें को लेकर कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम ने शनिवार लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के साथ बैठक की। बैठक के दौरान अपेक्षानुरूप कार्य नहीं होने पर कलेक्टर श्री कुमार ने इन कार्य के लिए जिम्मेदार चाहे वो सहायक यंत्री हो या उपयंत्री, ठेकेदार या थर्ड पार्टी इंस्पेक्शन (टीपीआई) हो सभी पर कार्यवाही करने की ताकीद दी है। कलेक्टर श्री कुमार ने कहा कि इस योजना में कार्य ऐसा होना चाहिए कि मुझे या किसी राहगीर को जल की आवश्यकता लगे तो नल खोले जल पाए। ऐसा काम होना चाहिए। कलेक्टर श्री कुमार ने विभाग के हालिया कार्याें को देखते हुए चेताया कि जुलाई माह के आखरी सप्ताह में विस्तार से बैठक होगी। इतने समय में यह सुनिश्चित कर लें कि काम गुणवत्तापूर्ण हो। एक-एक काम की समीक्षा होगी। जिसमें विभाग के अलावा थर्ड पार्टी इंस्पेक्शन तो रहेंगे ही साथ ही सभी कॉन्ट्रेक्टर भी आवश्यक रूप से मौजूद रहेंगे। काम में लापरवाही पायी गई तो बैठक में ही पेनल्टी की कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। बैठक में कार्यपालन यंत्री श्रीमती मंजू सिंह सहित विभाग के एसडीओ और उपयंत्री मौजूद रहें।
कसरावद अनुभाग में 6 योजनाएं हुई पूर्ण
बैठक के दौरान कसरावद अनुभाग के एसडीओ श्री पीके द्विवेदी ने जानकारी प्रस्तुत करते हुए बताया कि दगड़खेड़ी, बाड़ी, कसीबपुरा, चन्दनपुरी, अहिल्यापुरा और अवरकच्छ में रेट्रोफिटिंग पूर्ण होने की जानकारी दी। दगड़खेड़ी में 80.79 लाख की योजना में तीन ट्यूबवेल प्रस्तावित बताए गए। आज की स्थिति में यहां 185 घरों में कनेक्शन करने की जानकारी दी गई। इसी तरह बाड़ी में 212 घरों में चन्दनपुरी में 157 और अवरकच्छ में 171 घरों में कनेक्शन करने की जानकारी प्रस्तुत की गई।
शासकीय विभाग से कराएंगे सत्यापन
बैठक में समीक्षा के बाद कलेक्टर श्री कुमार ने आँगनवाड़ियों और स्कूलों में जल प्रदाय की जानकारी ली। कसरावद में 83 आँगनवाड़ियों में से 37 में पेयजल प्रदाय किया गया है। इसी तरह 58 स्कूलों में पानी पहुँचाया गया है। इसके पश्चात कलेक्टर श्री कुमार ने कहा कि यूजर महिला बाल विकास विभाग है। इनसे जानकारी ली जाएगी।
रेस्टोरेशन का कार्य देखें, ग्रामीण सड़के फिर से दुरुस्त करें
बैठक के दौरान कलेक्टर श्री कुमार ने कहा कि जहां-जहां कार्य किया गया है। वहां सभी दूर सड़क रेस्टोरेशन का कार्य गुणवत्तापूर्ण हो। पंचायतांे में अच्छी सड़कों को खराब किया गया है। यह कार्य एसडीओ और उपयंत्रियों का है। इसमें लापरवाही बर्दास्त नहीं होगी। अभी भी करीब डेढ़ माह का समय है। जुलाई के आखरी सप्ताह तक पूरा काम कर लंे।
जल जीवन मिशन जिले की योजना
बैठक के दौरान कार्यपालन यंत्री श्रीमती मंजू सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि जल जीवन मिशन के तहत जिले में कुल 612 योजनाएं स्वीकृत हैं। इसमें 493 रेट्रोफिटिंग और 119 नवीन योजनाएं है। ये कुल 62928.62 लाख रुपये की योजनाएं है। इसमें 324 योजनाएं डीडब्ल्यूएसएम से अनुमति प्राप्त है। जल मिशन के अंतर्गत कुल 75 योजनाएं पूर्ण हो चुकी है। इसमें कसरावद में 7, बड़वाह में 33, भीकनगांव में 14 और खरगोन में 21 योजनाएं पूर्ण हुई है।