जहरीली देशी शराब रखने वाले अभियुक्त की जमानत खारिज//

रवि शर्मा
 गोहद (भिंड) २४ सितम्बर ;अभी तक; जहरीली देशी शराब रखने वाले आरोपी/आवेदक राहुल पवैया द्वारा मान0 न्यायालय के समक्ष जमानत के लिये  आवेदन प्रस्तुत किया। अभियोजन द्वारा इस जमानत आवेदन का  न्यायालय के समक्ष घोर विरोध किया और अपराध की गम्भीरता को देखते हुये  न्यायालय से जमानत आवेदन निरस्त करने का निवेदन किया।  न्यायालय ने दोनों पक्षों को सुनने के पश्चात् अभियोजन के तर्क से सहमत होते हुये अभियुक्त का जमानती आवेदन खारिज कर दिया।
सहायक जिला अभियोजन अधिकारी/ सहायक मीडिया सेल प्रभारी प्रवीण सिंह सिकरवार द्वारा बताया गया कि अभियोजन के अनुसार सहायक उपनिरीक्षक लक्ष्मण किशोर गुबरेले में पदस्थ होकर कार्यरत हूँ आज दोराने कस्बा भ्रमण करता हुआ छेकुरी गेट से छेकुरी तरफ मय फोर्स वाहन के रवाना हुआ की जरिए मुखबिर सूचना मिली कि एक व्यक्ति छेकुरी गेट के आगे छेकुरी रोड पर पुलिया के पास एक बोरी में कुछ लिए वाहन का इंतजार कर रहा है उक्त सूचना की तस्दीक हेतु हमराही फोर्स के मुखबिर के बताए अनुसार छेकुरी रोड पुलिया पर पहुंचे तो एक व्यक्ति दाहिने हाथ में एक बोरी में कुछ लिए भागता दिखा जिसे हमराही फोर्स के मदद से घेरकर पकड़ा नाम पता पूछा तो उसने अपना नाम राहुल सिंह पवैया पुत्र सुधीर सिंह पवैया उम्र 25 साल निवासी ग्राम छेकुरी का होना बताया तथा उसके दाहिने हाथ में प्लास्टिक की बोरी को चेक किया तो उसमें एक सफेद रंग की प्लास्टिक की कट्टी मिली। कट्टी के बारे में पूछा गया तो उसके द्वारा उक्त कट्टी में हाथ की बनी हुई देसी शराब होना बताया उक्त व्यक्ति के कब्जे से पाई गई प्लास्टिक की कट्टी के ढक्कन को खोल कर चेक किया तो प्लास्टिक की कट्टी में से अजीब तरह की गंध आना पाई गई उक्त कट्टी में भरी हुई देसी शराब को देखकर तथा सूंघ कर एवं पुराने अनुभव के आधार पर उक्त शराब अत्यंत जहरीली प्रकार की पाई गई जो निश्चित तौर पर मानव जीवन के लिए उपयुक्त नहीं हैं कट्टी में 8 लीटर जहरीली शराब पाई गई उक्त आरोपी से उक्त शराब को रखने एवं विक्रय करने संबंधी वैध लाइसेंस चाहा गया तो ना होना बताया आरोपी राहुल सिंह पवैया पुत्र सुधीर सिंह पवैया उम्र 25 साल निवासी छेकुरी के द्वारा उक्त जहरीली शराब रखने एवं विक्रय संबंधी कृत्य अपराध धारा 49 (क) आबकारी एक्ट के तहत दंडनीय पाए जाने से गिरफ्तार कर वापस थाना आए वापसी पर प्रकरण कायम कर विवेचना में लिया गया।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *