जहां दवा असर नहीं करती वहां प्राकृतिक चिकित्सा लाभदायक-समाजसेवी प्रवीण गुप्ता

7:09 pm or November 24, 2021
महावीर अग्रवाल 
मन्दसौर २४ नवंबर ;अभी तक;  आर्य समाज द्वारा आयोजित किये जा रहे 7 दिवसीय एक्यूप्रेशर प्राकृतिक चिकित्सा शिविर का शुभारंभ वैदिक विधि से पूजा अर्चना कर किया गया। यह शिविर आर्य समाज मंदिर, तरणताल के सामने, मंदसौर में आयोजित किया जा रहा है जहां प्रसिद्ध थेरेपिस्ट अर्जुन कटारिया एम.डी. (एक्यू.) अपनी सेवाएं दे रहे है। यह शिविर 29 नवम्बर तक प्रतिदिन प्रातः 8 से दोप. 1 बजे एवं दोप. 3 से सायं 7 बजे तक आयोजित होगा।
                    शिविर के शुभारंभ पर मुख्य अतिथि पोरवाल समाज के पूर्व अध्यक्ष एवं समाजसेवी प्रवीण गुप्ता ने कहा कि भारत में तरह तरह की बीमारियों के बढ़ते दुष्प्रभाव से निजात दिलाने में प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति लगातार कारगर साबित हो रही है। उन्होंने दवाओं का असर नहीं होने पर प्राकृतिक चिकित्सा अपनाने की सलाह देते हुए कहा कि प्राकृतिक चिकित्सा में इन दिनों एक्यूप्रेशर काफी लोकप्रिय हुआ है।
                    थेरेपिस्ट अर्जुन कटारिया एम.डी. (एक्यू.) ने बताया कि शिविर में प्राकृतिक चिकित्सा के माध्यम से इस शिविर में मरीजों का इलाज किया जाएगा। साथ ही उन्हें बेहतर स्वास्थ्य के लिए जागरूक भी किया जाएगा। शिविर में एक्यूप्रेशर, व्यायाम एवं आधुनिक मशीनों से इलाज किया जाएगा। शिविर में सभी बिमारियों जैसे दमा, सांस, बवासिर, गठिया, रिंगण (सायटिका), जोड़ों का दर्द, घुटनों का दर्द, एडी का दर्द, ब्लड प्रेशर का बढ़ना-घटना, नजर की कमजोरी, लकवा, शुगर (1 साल पुरानी), मानसिक रोग, माइग्रेन, थायराईड, गुप्त रोग, शारीरिक दर्द, रीढ़ की हड्डी से संबंधित रोग, गर्दन का दर्द (सरवाईकल), हाथों पैरों में दर्द व सुनापन, चक्कर आना, नाभि का खिसकना (धरन), मोटापा, लकोरिया (श्वेत प्रदर) व धात रोग आदि रोगों का ईलाज किया जाएगा।
शुभारंभ अवसर पर आर्य समाज पुरोहित रमेशचन्द्र राव, कैलाश जैन, रामजी, एडवोकेट सुश्री सुधा कुर्मी, सहयोगी प्रिंस विद्यार्थी, पं. दिनेश शर्मा, चन्द्रेश गौड़ सहित अनेक गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। प्रथम दिन अनेक मरीजों ने एक्यूप्रेशर चिकित्सा पद्धति का लाभ लिया।

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *