जान से मारने की धमकी देकर एयरगन लेकर स्कूल पहुंचा छात्र, मचा हड़कम्प, पुलिस ने जब्त की गन,

मयंक भार्गव

बैतूल ११ जनवरी ;  एक से एक अत्याधुनिक मारधाड़ वाले वीडियो गेमों की इन दिनों भरमार है। ऐसे ही वीडियो गेम विद्यार्थियों में अत्यधिक लोकप्रिय भी हो रहे हैं। इसी का नतीजा है कि बच्चों की सोच सकारात्मक होने के बजाए इतनी अधिक नकारात्मक होने लगी है कि वह जरा-जरा से विवाद होने पर हथियार निकालने से भी पीछे नहीं हट रहे हैं। नगर के ड्रीम्ज स्कूल में एक छात्र द्वारा दूसरा छात्र को जान से मारने की धमकी देने के बाद एयरगन लेकर स्कूल पहुंचने की घटना यही दर्शाती है कि बच्चों में नकारात्मकता तेजी से फैल रही है। अगर ऐसे में बच्चों की ऊर्जा को सही दिशा में नहीं मोड़ा गया तो निश्चित रूप से यह विस्फोटक रूप धारण कर सकती है। बहरहाल वह तो शुक्र था कि जिस बच्चे को धमकी दी थी उसने अपने परिजनों को बता दिया और परिजन ही उसके साथ स्कूल पहुंच गए थे वरना कुछ भी हो सकता था। कल्पना कीजिए की परिजनों के सामने जो छात्र एयरगन निकाल सकता है वह क्या नहीं कर सकता था? परिजनों की सतर्कता से पुलिस मौके पर पहुंच गई और छात्र से एयरगन जब्त कर लिया। यह घटना जिला मुख्यालय से करीब 50 किलोमीटर दूर मुलताई ब्लाक मुख्यालय के स्कूल में मंगलवार को घटित हुई।

विवाद होने पर स्कूल लेकर गया था एयरगन

मुलताई थाना प्रभारी सुनील लाटा ने बताया कि अमरावती रोड पर स्थित ड्रीम्ज स्कूल में कक्षा दसवीं में अध्ययनरत छात्र योगराज चौहान निवासी सूकाखेड़ी का मुलताई निवासी छात्र से किसी बात पर विवाद हो गया। इसके बाद उक्त छात्र द्वारा अपने दूसरे दोस्त के माध्यम से पहले योगराज को फोन पर धमकी दी गई जिसके बाद वह स्कूटी में बंदूक रखकर स्कूल पहुंच गया। इधर योगराज के चाचा मानसिंह द्वारा डायल 100 को सूचना दी गई जिस पर पुलिस ने स्कूल पहुंचकर स्कूटी में से बंदूक जब्त की।

पीडि़त के परिजनों ने थाने में की शिकायत

मानसिंह ने थाना मुलताई में लिखित आवेदन के माध्यम से बताया कि 10 जनवरी को उसका स्कूल के एक छात्र से विवाद हो गया जिस पर छात्र द्वारा अपने अन्य सहयोगी छात्र के माध्यम से रात लगभग 8.30 बजे धमकी देते हुए कहा कि तू स्कूल आ हम तेरे को जान से मार देंगे। इस पर योगराज डर के मारे मंगलवार स्कूल नही जा रहा था जब उसके चाचा द्वारा उससे इसका कारण पूछा गया तो उसने धमकी के बारे में बताया। इस पर मानसिंह भतीजे योगराज को लेकर स्कूल पहुंचा जहां शिक्षकों को घटना के बारे में बताया।

स्कूटी में लेकर गया था एयरगन

इस दौरान योगराज ने बताया कि धमकी देने वाला छात्र स्कूटी क्रमांक एमपी 48 एमजेड 9438 की डिक्की में बंदूक लेकर आया है। इस पर मानसिंह ने तत्काल डायल 100 को सूचना देकर पुलिस को बुलाया। पुलिस द्वारा स्कूटी की डिक्की की जांच की गई तो उसमें बंदूक निकली। मानसिंह द्वारा पूरे मामले में छात्र एवं उसके अन्य दो दोस्तों के खिलाफ नामजद लिखित तौर पर शिकायत की गई है।

पुलिस ने जब्त की एयरगन

इस मामले में जब थाना प्रभारी सुनील लाटा से चर्चा की गई तो उन्होंने बताया कि स्कूटी की डिक्की में जो जब्त की है वह बंदूक नहीं एयरगन है जो छर्रे वाली होती है। उन्होंने बताया कि सूचना पर तत्काल पुलिस ड्रीम्ज स्कूल पहुंची तथा उक्त छात्र के पालक को बुलवाया गया। जिसे धमकाया गया था उस छात्र के चाचा द्वारा शिकायत की गई है जिसकी जांच की जा रही है।

स्कूल में घटी घटना से मचा हड़कम्प

10 वीं में अध्ययनरत नाबालिग छात्रों द्वारा पहले फोन पर धमकी देकर फिल्मी स्टाईल से स्कूटी में एयरगन ले जाने की पहली घटना हुई है। उक्त घटना से स्कूल में अध्ययनरत विद्यार्थियों के पालकों में हड़कंप मच गया है। पुलिस के अनुसार भले ही वह एयरगन हो लेकिन छात्रों के मंसूबों को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है कि आखिर कहां से नाबालिग छात्रों के दिमाग में ऐसा फितूर आया है कि पढ़ाई की उम्र में वे फिल्मी स्टाईल से धमकी देकर एयरगन स्कूल ले जा रहे हैं। इधर पूरे मामले में पुलिस भी छात्रों की इन हरकतों से आश्चर्यचकित है।                                       मयंक भार्गव बैतूल से