जिले में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों का कोविड टीकाकरण 3 जनवरी से

सौरभ तिवारी

 

होशंगाबाद ३१ दिसंबर ;अभी तक;   जिले में 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों का टीकाकरण महाअभियान 3 जनवरी से प्रारंभ हो रहा है। इसी संबंध में शुक्रवार को जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम की अध्यक्षता में जिला पंचायत सभागार में संकुल प्राचार्यो की उन्मुखीकरण बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में जिला पंचायत सीईओ ने सभी विकास खंड शिक्षा अधिकारियों एवं संकुल प्राचार्यो को निर्देश दिए कि किशोरों के टीकाकरण के लिए विद्यालय केंद्रों पर पुख्ता इंतजाम किए जाए। केंद्र पर पेयजल, साफ सफाई आदि की समुचित व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सभी पात्र किशोरों का शीघ्र टीकाकरण किया जाएं। कोई भी किशोर टीकाकरण से वंचित न रहे।  शिकायतों के तत्काल निराकरण के लिए कंट्रोल रूम को सक्रिय करे।

जिला पंचायत सीईओ श्री सरियाम ने कहा कि पालक शिक्षक संघ की बैठक आयोजित कर अभिभावकों को अपने बच्चों के टीकाकरण के लिए प्रेरित किया जाए। साथ ही उनकी शंकाओं का भी समाधान करें। टीकाकरण महाअभियान का व्यापक प्रचार प्रसार करें।

 

जिले के 67720 किशोरों का होगा टीकाकरण

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ नलिनी गौड ने बताया कि जिले में कक्षा में 9 वी से 12 वी में अध्यनरत 67720 किशोरों का  टीकाकरण किया जाएगा। इसके अतिरिक्त शाला त्यागी बच्चों का भी टीकाकरण होगा। बताया कि वैक्सीनेशन हेतु सेंटर विद्यालय को बनाया जा रहा है। इसके लिए स्कूल प्राचार्य नोडल अधिकारी होगें। उन्होंने कहा कि सभी शिक्षकों को कक्षों में और कक्षों के बाहर लाईन लगवाने एवं कक्षों में अनुशासन बनाने रखने की जिम्मेदारी सौंपी जाए। सभी बच्चों की उपस्थिति एक ही दिन सुनिश्चित की जाए, इसके लिए पालकों को पूर्व सूचना देकर अवगत कराया जाना सुनिश्चित करे।  साथ ही पालकों की सहमति भी प्राप्त करें। पालकों को बताया जाए की वैक्सीनेशन के दिन विद्यार्थी खाली पेट ना आये नाश्ता / भोजन करके आयें। बालकों को घर से अपने पहचान हेतु कोई भी अभिलेख / आधार कार्ड साथ में लाने हेतु निर्देशित करें। उपरोक्त के अभाव में शाला विद्यालय से उनका आईडी कार्ड जारी करे। इसकी तैयारी पूर्व में कोरे प्रारूप तैयार कर रखें। इस पर फोटो चिपकाकर आईडी कार्ड जारी किया जा सकता है।

 

डॉ नलिनी गौड ने बैठक में कहा कि सभी वैक्सीनेशन सेंटर पर वैक्सीनेशन का रजिस्टर संधारित करें। स्वास्थ्य विभाग द्वारा वैक्सीनेशन सोमवार, बुधवार, गुरु, एवं शनिवार को आयोजित किए जाते है। इन दिनों में किसी एक दिन आपके विद्यालय में वैक्सीनेशन का कार्य किया जाना है जिसकी जानकारी आपके विकासखण्ड के बीएमओं के द्वारा प्रदान की जायेगी। विद्यालय में तीन कक्षों की व्यवस्था के साथ-साथ पेयजल, शौचालय,विद्यालय की स्वच्छता का भी ध्यान रखा जावें। जिन विद्यालय में कम्प्यूटर, इंटरनेट की व्यवस्था है वे यह सामग्री स्वास्थ्य विभाग की टीम को उपलब्ध करावें ताकि कार्य को सुचारू रूप से संचालित किया जा सके।

 

उत्सवी माहौल में किया जाए टीकाकरण

जिला शिक्षा अधिकारी श्री अरूण कुमार इंगले ने कहा कि विद्यालय सेंटर पर उत्सवी माहौल में  टीकाकरण किया जाए। टीकाकरण  कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार करें। वैक्सीनेशन सेंटर पर रंगोली, गमले, इत्यादि से संजावट करें। स्थानीय स्तर पर जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित कर शामिल किया जाए। सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग श्रीमती चंद्रकांता सिंह ने कहा कि टीकाकरण के संबंध में  विकासखंड स्तर पर भी बैठक आयोजित कर आवश्यक व्यवस्थाएं की जाए। बैठक में सहायक संचालक शिक्षा विभाग श्री तिवारी ने पीपीटी के माध्यम से किशोरों के टीकाकरण के संबंध में जानकारी दी गई। बैठक में शिक्षक एवं जनजातीय कार्य विभाग के विकास खंड शिक्षा अधिकारी एवं संकुल प्राचार्य व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

 

टीकाकरण के लिये 1 जनवरी से कोविन एप पर करा सकते है पंजीयन

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी गाईडलाईन के अनुसार 15 से 18 वर्ष के आयुवर्ग के किशोरों का कोविन एप या कोविन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। जिसकी प्रक्रिया 1 जनवरी 2022 से कोविन एप व कोविन पोर्टल पर प्रारंभ होगी। जिसके बाद 3 जनवरी से कोविड-19 टीकाकरण का कार्य शुरु होगा।

वैक्सीन केवल किशोरों को ही लगाई जायेगी। रजिस्ट्रेशन के लिये कोविन एप एवं कोविन पोर्टल पर आधार के साथ 9 दस्तावेजों की सूची के आधार पर पंजीयन कराया जा सकेगा। इसमें स्कूल द्वारा जारी परिचय पत्र भी मान्य होगा। एैसे लाभार्थियों को सत्यापनकर्ता अथवा वेक्सीनेटर द्वारा ऑनसाईट भी पंजीयन किया जा सकता है। वेक्सीन लगवाने के लिये अपॉईंटमेन्ट ऑनलाईन या ऑनसाईट भी बुक करने की सुविधा उपलब्ध रहेगी। कोविन एप एवं कोविन पोर्टल से ऑनलाईन स्लॉट बुक करवाने वालों को वेक्सीनेशन सेंटर पर रिफरेन्स नंबर और सीक्रेट कोड की जानकारी देना अनिवार्य होगा। यह रिफरेन्स नंबर एवं सीक्रेट कोड रजिस्ट्रेशन के दौरान प्राप्त होगा।