जेकेसेम सीमेंट फैक्ट्री की दमनकारी नीति के विरुद्ध पीड़ित किसान लामबंद हुए, कल क्षेत्र के किसान कलेक्टर पन्ना को सौंपेंगे ज्ञापन

5:01 pm or November 26, 2021
दीपक शर्मा
पन्ना 26 नवंबर ;abhi tk;  पन्ना जिले के सिमरिया तहसील अंतर्गत देवरा में निर्माण हो रही जेके सेम सीमेंट कंपनी के तानाशाह रवैये से एक बार फिर किसानों में आक्रोश देखा गया। पीड़ित किसान अब लामबंद होने लगे है जो जेके सेम फैक्टरी के कर्मचारियों की दमनकारी नीति का विरोध करेंगे। जिसको लेकर गत दिवस रेस्ट हाउस सिमरिया में समस्त प्रभावित ग्रामों के किसानों एवं जनप्रतिनिधियों से जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के पूर्व अध्यक्ष एवं भाजपा नेता संजय नगायच के नेतृत्व में एक बैठक आयोजित की गई ।
                    बैठक में भाजपा मोहंद्रा मंडल अध्यक्ष अरुण चौरसिया, सिमरिया सरपंच पुष्पराज सिंह, मंडल उपाध्यक्ष मुकेश पटेल, जगदीश रावत, त्रिभुवन लोधी, रमेश पटेल, कोनी सरपंच हरिचरण विश्वकर्मा, आदित्य द्विवेदी, पप्पू राजा, आदि ने जेके सेम सीमेंट फैक्ट्री प्रभावित समस्त ग्रामों के किसानो जनप्रतिनिधि से भेंट की और सीमेंट फैक्ट्री द्वारा की जा रही तानाशाही मनमानी को जाना ।
                इस संबंध में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के पूर्व अध्यक्ष संजय नगायच जी ने किसानों जनप्रतिनिधियों को आश्वस्त किया की देश और प्रदेश में “भाजपा की लोक कल्याणकारी किसान हितेषी सरकार” है वह किसी भी स्थिति में अन्नदाता किसानों का अनहित नही होनी देगी, और हम जिम्मेवार नेता होने के कारण आप सभी की समस्याओं के समाधान के लिए संकल्पित हैं जेके सीमेंट फैक्ट्री को किसानों को विश्वास में लेकर सम्मानजनक तरीके से उनकी पुश्तैनी कृषि भूमि के मूल्य तय करते हुए प्रत्येक परिवार को रोजगार देने के साथ क्षेत्रीय युवाओं को कम से कम 70% रोजगार देना ही होगा साथ ही प्रभावित ग्रामों एवं सिमरिया तहसील के विकास के लिए मूलभूत सुविधाएं सड़क, बिजली, पानी, सर्व सुविधायुक्त अस्पताल, कॉलेज, प्रोफेशनल प्रशिक्षण संस्थानों का भी रोडमैप बताना ही होगा । अंग्रेजों का शासन नहीं है किसानों एवं क्षेत्रवासियों को विश्वास में लेकर उद्योग लगे इसके लिए हम सभी की सहमति है अगर जेके सेम सीमेंट फैक्ट्री द्वारा तानाशाही मनमानी की गई तो मुखरता से विरोध किया जाएगा ।
                   प्रशासन द्वारा जेके सेम सीमेंट कंपनी के लिए धारा 247 के तहत नोटिस जारी किये थे जिसके बाद किसान आनन् फानन में पवई एसडीएम के समक्ष मौजूद हुए जिससे एसडीएम पवई द्वारा किसानों को 7 दिसम्बर 2021 का समय दिया गया लेकिन उसके बाद प्रशासन द्वारा पुनः 23 नवम्बर को किसानों को एक बार पुनः पेस होने के लिए नोटिस जारी कर दिया गया जिसका किसानों ने विरोध किया एवं एकत्रित होकर फैसला लिया गया कि 26 नवम्बर को जिला मुख्यालय में कलेक्टर पन्ना को मुख्यमंत्री के नाम समस्त क्षेत्रीय  किसान ज्ञापन सोपेंगे साथ ही अन्य विषयों पर भी कलेक्टर महोदय जिला प्रशासन से विधिवत चर्चा करेंगे । इस बैठक में सिमरिया, देवरा , बोदा, कोनी, गुढा, महराजगंज, भुपतपुरा, गनयारी सहित समस्त ग्रामो से किसान एवं जिम्मेदार जनप्रतिनिधि राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता नेता गण मौजूद रहे ।

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *