जेल में बंद सजा याफ्ता बंदियों ने पिया एसिड जेल प्रबंधन की लापरवाही आई सामने

6:03 pm or October 21, 2020
जेल में बंद सजा याफ्ता बंदियों ने पिया एसिड जेल प्रबंधन की लापरवाही आई सामने

मयंक भार्गव

 बैतूल २१ अक्टूबर ;अभी तक; मप्र- जिला जेल में आज सुबह दो बंदियों ने टॉयलेट क्लीनर पी लिया जिससे जेल में हड़कम्प मच गया दोनों ही बंदी गम्भीर अपराध की सजा काट रहे थे बंदियों को खराब हालत में जिला अस्पताल लाया गया था जंहा उनका इलाज जारी है|

जिला जेल के अंदर लगातार घटनाएं घट रही है कुछ दिन पहले एक कर्मचारी द्वारा शराब पीकर हंगामा किया गया था और अब सजा याफ्ता दो बंदियों ने एसिड पीकर अपनी जान देने की कोशिश की है| एक बंदी जिसका नाम ब्रजेश झनकलाल जो कि 376 के मामले में 17 मई 2019 से जेल में सजा काट रहा है तो दूसरा बंदी मंटू शंकर पिता मिश्रीलाल 302 के मामले में 18 अक्टूबर 2019 से सजा काट रहा है| बुधवार की सुबह दोनों बंदियों ने टॉयलेट क्लीनर पीकर जान देने की कोशिश की थी दोनों बंदियों को आनन फानन में जिला अस्पताल लाया गया | जिला अस्पताल के डॉक्टर रंजीत राठौर ने इन मरीजों को देखा और इलाज शुरू कर दिया था  डॉ रंजीत के मुताबिक अभी दोनों बंदियों की हालत ठीक है|

इस पूरी घटना में जेल प्रबन्धन की लापरवाही उजागर हुई है जेल में बन्द बंदियों को टॉयलेट क्लीनर कैसे मिल गया और उन्होंने इसे पीकर जान देने की किशिश की इस पूरे मामले में जेल अधीक्षक बी के कुडापे से बात की तो उन्होंने बताया कि टॉयलेट क्लीनर स्वीपर के पास रहता है उन्हें सूचना मिली थी तब वे तुरंत पँहुचे थे और देखा था टॉयलेट क्लीनर बहुत कम परसेंट वाला था | श्री कुडापे यह भी बताया कि जेल में अभी जेलर है और न ही डिप्टी जेलर  स्टाफ की कमी है  इस पूरी घटना की जांच की जाएगी/

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *