जैन धर्म के खिलाफ दुष्प्रचार करने वाले अनूप मंडल पर तत्काल लगे प्रतिबंध- सम्यक जैन चौधरी

महावीर अग्रवाल
मन्दसौर १६ जून ;अभी तक;  अनूप मंडल द्वारा जैन समाज के साधु संत, धार्मिक ग्रंथांे व जैन समाज के सिद्धान्तों पर अपमानजनक टिप्पणी कर दुष्प्रचार फैलाया जा रहा है। साथ ही इस अनूप मण्डल के सदस्यों द्वारा देश मे पैदल विहार करते साधु संतो को बाधाएं पहंुचाई जा रही है जिससे पुरे जैन समाज मे रोष व्याप्त है।
            यह बात भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के नगर अध्यक्ष सम्यक जैन चौधरी ने कहते हुए देश के प्रधानमंत्री से मांग की है कि ऐसे असामाजिक अपराधिक संगठन अनूप मंडल पर कार्यवाही कर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जाए। जिससे जैन धर्म के खिलाफ यह संगठन आगे ऐसा दुष्कृत्य दुबारा न कर सके। श्री जैन ने कहा कि जैन समाज हमेशा से ही अंहिसा का पक्षधर रहा है व देश के विकास अर्थव्यवस्था मंे भी हमेशा अग्रणी रहा है।
                  सम्यक जैन चौधरी ने अनूप मंडल को आगाह किया है कि आगे भी अनूप मण्डल द्वारा जैन समाज, जैन साधु संतों, जैन सिद्धांत व ग्रंथो पर गलत अशोभनीय टिप्पणी की गई तो जैन समाज चुप नही बैठेगा। जैन समाज अपने साधु, संत, ग्रथ व सिद्धान्तों की रक्षा करना जानता है, जिसके लिए हर स्तर पर निपटने मंे सक्षम है इसके लिए आन्दोलन कर सकता है, जरुरत पड़ी तो जैन धर्म की रक्षा के लिये वह सीमा भी लांघ भी सकता है।
                  सम्यक जैन चौधरी ने कहा कि जैन समाज एक शांतिप्रिय समाज है। भगवान महावीर का अहिंसा परमो धर्म और जियो और जीने दो का संदेश पूरे विश्व में व्याप्त है एवं आदि काल से जैन संस्कृति भारत सहित विश्व में शांति का संदेश देती रही है, इस संस्कृति पर आक्रमण समाज सहन नहीं करेंगा। आपने प्रधानमंत्री एवं प्रदेश के मुख्यमंत्रियों से मांग की है कि ऐसे धर्म विरोधी संगठन पर तत्काल कार्यवाही करते हुए देश-प्रदेश में प्रतिबंध लगाया जाये।