जैन श्वेताम्बर मालवा महासंघ का मंदसौर जिला सम्मेलन सम्पन्न 50 से अधिक श्री संघों के प्रतिनिधि हुए शामिल

5:09 pm or December 27, 2021
महावीर अग्रवाल
मन्दसौर २७ दिसंबर ;अभी तक;  दिनांक 15 व 16 जनवरी को श्री नागेश्वर महातीर्थ (उन्हेल राज.) में होने जा रहे जैन श्वेताम्बर मालवा महासंघ के दो दिवसीय विराट महासम्मेलन की तैयारी को लेकर कल रविवार को चौधरी कॉलोनी स्थित श्री रूपचांद आराधना भवन में मंदसौर जिले के लगभग 50 श्री संघों के प्रतिनिधियों का वृहद सम्मेलन आयोजित किया गया। इस सम्मेलन में पूरे मंदसौर जिले के जैन श्वेताम्बर श्री संघों के चयनित प्रतिनिधि शामिल हुए। इस सम्मेलन में श्री नागेश्वर महातीर्थ में होने जा रहे दो दिवसीय सम्मेलन को सफल बनाने व जैन समाज को और अधिक एकता के सूत्र में बांधने पर व्यापक विचार विमर्श किया गया। प.पू. नवरत्नसागरजी म.सा. के कृपा पात्र शिष्य  प.पू. आचार्य श्री विश्वरत्न सागरजी म.सा. की पावन निश्रा में नागेश्वर महातीर्थ में यह सम्मेलन आयोजित होने जा रहा है। इस महासम्मेलन में मेवाड़ा, वागड़, हाड़ोती क्षेत्र के समस्त श्री संघ के प्रतिनिधि शामिल होंगे। कल इसी महासम्मेलन की तैयारियों पर सम्मेलन में व्यापक चर्चा की गई।
                    इस सम्मेलन में राष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष बाबूलाल आंचलिया, प्रांतीय संयोजक कमल कोठारी, जिला संयोजक दिलीप डांगी, नागेश्वर तीर्थ पेड़ी के कोषाध्यक्ष प्रशांत लोढ़ा, सकल जैन समाज अध्यक्ष मंगेश भाचावत, राजस्थान महासचिव अशोक लोढ़ाा, सहधार्मिक अनुकम्पा दान जिला प्रमुख अभय पोखरना, महासंघ के प्रचार मंत्री विजय बम्बोरिया, महासंघ के महासचिव राजेश मानव, महासंघ के परामर्शदाता पारस जैन किर्लाेस्कर आदि मंचासीन थे।
                     इस सम्मेलन में कई श्री संघों के प्रतिनिधियों ने अपने सुझावों से मंचासीन अतिथियों को अवगत कराया। योगगुरू सुरेन्द्र जैन, पंकज खटोड़, सुनील जैन फ्लाईकिंग, राजेश मानव नीमच, राकेश जैन, कमल जैन घसोई तीर्थ ट्रस्टी अनिल धींग ने अपने सुझावों से अवगत कराते हुए आगामी कार्यक्रम को सफल बनाने पर भी अपनी बात रखी। कार्यक्रम में पंकज जैन रांगोली, सुनील जैन फ्लाईकिंग, दिलीप रांका, संदीप धींग, अनिल धींग, दिलीप संघवी, अर्पित डोसी, राकेश जैन, पियुष जैन, बागमल नाहर आदि ने भी कार्यक्रम के आयोजन में सहभागिता की।
                     मालवा महासंघ के राष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष बाबूलाल आंचलिया ने कहा कि जैन समाज की एकता के लिये मालवा महासंघ पूरे समर्पित भाव से जुटा है। जैन श्वेताम्बर श्री संघों को एकता के सूत्र में बांधने के लिये आचार्य श्री विश्वरत्नसागरजी म.सा. के मार्गदर्शन में निरंतर कार्य कर रहा है। जैन समाज को शिक्षा व स्वास्थ्य के क्षेत्र में आगे बढ़कर मानव सेवा के प्रकल्प से जुड़ना चाहिए।
                    सकल जैन समाज अध्यक्ष मंगेश भाचावत ने कहा कि जिस उद्देश्य को लेकर मालवा महासंघ कार्य कर रहा है वह उद्देश्य समाजहित, राष्ट्रहित, देशहित में एक अनुकरणीय पहल है।  समाज का किस प्रकार उत्थान व विकास हो ऐसे साधु-साध्वी के आहार-विहार की व्यवस्था में सहभागी बने। सधार्मिक भक्ति शिक्षा चिकित्सा के क्षेत्र में जैन समाज अग्रणी बना रहे इसके लिये सामूहिक प्रयासों की जरूरत है।
                      कार्यक्रम में प्रांतीय संयोजक कमल कोठारी ने कहा कि शिक्षा व चिकित्सा के क्षेत्र में समाज को आगे आना चाहिए। कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिथियों के द्वारा नवरत्नसागरजी के चित्र पर माल्यार्पण किया गया। कार्यक्रम में मालवा महासंघ के आगामी कार्यक्रमों की रूपरेखा प्रस्तुत की। कार्यक्रम का संचालन पंकज खटोड़ व सुनील जैन फ्लाईंिकंग ने किया व आभार विरेन्द्र भण्डारी ने माना।