जैन श्वेताम्बर सोश्यल ग्रुप ने किया तपस्वियों का बहुमान तप आराधना का पर्यूषण पर्व में बहुत महत्व है – सजैस अध्यक्ष भाचावत

10:11 pm or September 13, 2021
जैन श्वेताम्बर सोश्यल ग्रुप ने किया तपस्वियों का बहुमान तप आराधना का पर्यूषण पर्व में बहुत महत्व है - सजैस अध्यक्ष भाचावत
महावीर अग्रवाल

मंदसौर १३ सितम्बर ;अभी तक;  इस वर्ष श्वेताम्बर जैन समाज के पर्यूषण पर्व के दौरान तपस्याओं का रिकार्ड दर्ज किया गया। तपस्याओं के क्रम में जैन श्वेताम्बर सोश्यल गु्रप से जुड़े 24 सदस्यों ने भी तप आराधनाएं पर्यूषण पर्व के दौरान की जिनका बहुमान रविवार 12 सितम्बर को जैन महाविद्यालय परिसर में किया गया। कार्यक्रम में अतिथि के रूप में सकल जैन समाज के अध्यक्ष मंगेश भाचावत, बडेसाथ जैन समाज ईकाई अध्यक्ष अजीत संघवी और समाजसेवी अनिल जैन फोटोकाॅपी उपस्थित थे। वहीं ग्रुप के संस्थापक अध्यक्ष सीए प्रतिक डोसी, वर्तमान अध्यक्ष राकेश दुग्गड, आगामी अध्यक्ष विकास पामेचा और विशेष आमंत्रित सदस्य संजय मुरडिया मंचासिन थे।

              इस अवसर पर स्वागत उद्बोधन ग्रुप के संस्थापक अध्यक्ष सीए प्रतिक डोसी ने देते हुए अतिथियों का परिचय दिया। जिसके पश्चात् सभी तपस्वियों को मोतीयों की माला, जैन दुपट्टा एवं अभिनंदन पत्र सौंपकर बहुमान अतिथियों एवं ग्रुप के पदाधिकारियों ओर सदस्यों द्वारा किया गया। वहीं ग्रुप के सदस्य संजय मुरडिया के भाजपा जिला उपाध्यक्ष बनने पर उनका भी सम्मान ग्रुप द्वारा किया गया।
               कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सजैस अध्यक्ष मंगेश भाचावत ने कहा कि पर्यूषण पर्व में तप आराधनाओं को अत्यधिक महत्व है। इसका उल्लेख हमारे जैन समाज के कई शास्त्रों में भी मिलता है।
              श्री संघवी ने कहा कि सभी तपस्वियों की बहुत – बहुत अनुमोदना जिन्होने इतनी गर्मी में 8, 9 दिनों तक उपवास किये।
              श्री जैन ने कहा कि इस बार दशपुर की धरा का पुण्य जागृत हुआ है। जो बड़ी संख्या में तपस्या हुई है इतनी तपस्या पूरे मालवांचल के लिए एक रिकार्ड है। इस अवसर पर ग्रुप के शरद धींग, उज्जवल मेहता, विनोद कुकडा, अजय चपरोत, विपिन चपरोत, शीतल जैन, सचिन पाटनी, सुरेन्द्र जैन, अंकित जैन चिनु, नितेश संघवी, अंकुश जैन, अर्पित डोसी, नितिन खाबिया, दिलिप संघवी, अश्विन रातडिया, सीए अंकुश जैन, मानमल जैन, पंकज जैन रांगोली आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन रश्मि जेतावत और प्रिती कुकडा ने किया एवं अंत में आभार राकेश दुग्गड ने माना।

इन तपस्वियों का हुआ बहुमान
कार्यक्रम में रीना चपरोत, राकेश चपरोत, रश्मि बाफना, प्रियंका सालेचा, पियूष बाफना, नव्या चपरोत, कमलेश सालेचा, जयना छिंगावत, एशवी कर्नावट, भव्य संघवी, ऋषिता चपरोत, नितेश पोरवाल, महिमा पोरवाल, अक्षत जैन, जुली डोसी, दर्शना डोसी, दिशा डोसी, अक्षय जैन, अभिवन जैन, विजयेन्द्र फांफरिया, गौरव जैन का बहुमान किया गया।