तिलक लगाकर व पुस्तकें देकर बच्चों को स्कूल में कराया प्रवेश

7:44 pm or June 17, 2022
मोहम्मद सईद
शहडोल, 17 जून अभी तक। शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में शुक्रवार को उत्साह पूर्ण वातावरण में स्कूली बच्चों को तिलक लगाकर व पुस्तकें देकर स्कूल में प्रवेश कराया गया। इस दौरान अभिभावकों के साथ-साथ छात्रों में भी व्यापक उत्साह देखा गया।
प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा विभाग एवं संचालक राज्य शिक्षा केन्द्र भोपाल के निर्देशानुसार, आयुक्त संभाग शहडोल राजीव शर्मा व कलेक्टर श्रीमती वंदना वैद्य के कुशल मार्गदर्शन एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत हिमांशु चन्द्र के निर्देशन में शुक्रवार को स्कूल चले अभियान का शुभारंभ हुआ। जिले की सभी 1736 शासकीय स्कूलों में  नवप्रवेशी बच्चों को तिलक एवं रोली लगाकर पुस्तक देकर मिठाई खिलाकर प्रवेशोत्सव कराया गया।
शनिवार को होगी बाल सभा
जिला शिक्षा केंद्र के जिला परियोजना समन्वयक डाॅ. एम.के.त्रिपाठी ने माध्यमिक विद्यालय कटकोना में स्कूल चले अभियान के तहत आयोजित कार्यक्रम में कहा कि आज समस्त विद्यालयों में एवं छात्रावासों में शाला प्रबंधन समिति एवं छात्रावास प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित कर प्रवेशोत्सव मनाया जा रहा है। 18 जून को समस्त विद्यालयों में बालसभा का आयोजन किया जावेगा।
20 से 26 तक होगा पालक सम्मेलन
डाॅ. त्रिपाठी ने कहा कि छात्रों में शाला के प्रति आकर्षण एवं उत्साह पैदा करने हेतु 20 से 26 जून तक पालक सम्मेलन का आयोजन समस्त विद्यालय में किया जावेगा। कक्षा 1 में प्रवेश योग्य बच्चों का चिन्हाकंन कर प्रवेश दिलाया जावेगा।
जिला परियोजना समन्वय डाक्टर त्रिपाठी ने बताया कि शुक्रवार को 902 नव-प्रवेशी बच्चों को कक्षा 1 में प्रवेश दिलाया गया। 30 जून तक शिक्षा पोर्टल में कक्षोन्नति एवं नामाकंन की की कार्रवाई पूर्ण किया जाना है।
शिक्षक जाएंगे घर-घर
उन्होंने यह भी बताया कि ग्रह संपर्क अभियान के तहत् शिक्षक घर-घर जाकर पालकों से मिलकर विद्यालय जाने योग्य समस्त बच्चों को चिन्हाकंन कर प्रवेश दिलाया जाएगा एवं शाला से बाहर (बेघर, बेसहारा, अनाथ) बच्चों का चिन्हाकंन कर विद्यालय में प्रवेश दिलाकर शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ने की कार्यवाही की जा रही है। स्कूल चले प्रवेश उत्सव कार्यक्रम में जिले के सभी विकासखण्डों के बी आर सी सी, बी ए सी, सी ए सी, शिक्षक और प्रधानाध्यापक बढ़ चढ़ कर सहभागिता निभा रहे है।
भठिया विद्यालय का हुआ उन्नयन
जिला परियोजना समन्वय डॉक्टर त्रिपाठी बताया कि भारत शासन द्वारा कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय भठिया (200सीटर) का उन्नयन कर 220 सीटर  किया गया है। सत्र् 2022-23 से कक्षा 9वीं में भी पात्र बच्चियों का प्रवेश दिलाया जा रहा है। डाॅ त्रिपाठी ने कहा कि समस्त पालक अपने बच्चों को विद्यालय में उपस्थित कराने में सहयोग प्रदान करे तथा बच्चों के सवार्गीण विकास में महति भूमिका निभाये जिससे जिले के सभी बच्चो शिक्षा की मुख्य धारा से जुड़कर गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा ग्रहण कर सके। उन्होंने इस पुनीत कार्य में सभी के सहयोग की अपेक्षा व्यक्त की है।
अशासकीय स्कूलों में प्रवेश 30 तक
उन्होंने यह भी बताया कि शिक्षा का अधिकार कानून में सत्र 2022-23 में अशासकीय स्कूलों की प्रथम कक्षा में निःशुल्क प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 30 जून है। पात्रतानुसार निजी विद्यालय में निःशुल्क प्रवेश के लिए आवेदकों का चयन ऑनलाइन लॉटरी के द्वारा 5 जुलाई को किया जायेगा। इस वर्ष कोविड.19 से माता-पिता(अभिभावक) की मृत्यु से अनाथ हुऐ बच्चों को मुख्यमंत्री कोविड.19 बाल कल्याण योजना में ऑनलाइन लॉटरी में प्राथमिकता दी जायेगी।