तीन घंटे की मोहलत देकर नपा ने हटाया कॉलेज रोड का अतिक्रमण

मयंक भार्गव

बैतूल २६ नवंबर ;अभी तक;  जिले के अग्रणी महाविद्यालय शासकीय जेएच कॉलेज के सामने गुमठियों में व्यवसाय करने वाले दुकानदारों को मात्र तीन घंटे में दुकान हटाने के निर्देश देने के बाद नपा का अमला दल बल के साथ अतिक्रमण हटाने पहुंच गया। नपा की चेतावनी के बाद दुकानदारों ने दुकाने हटाना शुरू की। दोपहर दो बजे के बाद अतिक्रमण हटाने पहुंचे नगरपालिका अमले ने गुमठियां उठाना शुरू कर दिया। नपा अमले ने लगभग आधा दर्जन गुमठियां जब्त की वहीं लगभग दो दर्जन दुकानदारों ने स्वयं ही अपनी गुमठियां हटा ली। नपा की इस कार्रवाई से कॉलेज रोड पर गुमठियों में दुकान लगाने वाले कई लोग बेरोजगार हो गए।

कॉलेज रोड पर कॉलेज चौक से अवस्थी काम्प्लेक्स तक लगभग दो दर्जन से अधिक युवाओं द्वारा गुमठिया लगाकर दुकाने संचालित की जाती है। इन गुमठियों में चाय, पान, नाश्ता की दुकानों के साथ ही फोटोकापी सेंटर, स्टेशनरी, ऑनलाईन सेंटर आदि संचालित किए जाते है ताकि कॉलेज आने वाले विद्यार्थियों को भी सुविधा मिल जाए और बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिल सके। इस क्षेत्र में दुकान लगाने वाले दुकानदारों ने बताया कि गुरूवार को युजी प्रथम वर्ष और पीजी फस्र्ट सेम में प्रवेश लेने का अंतिम दिन था। इसके चलते कॉलेज में भीड़भाड़ अधिक थी। सुबह लगभग 11 बजे नगरपालिका की टीम पहुंची और सभी दुकानदारों से दोपहर दो बजे तक अपनी दुकाने हटाने का फरमान सुना दिया। नपा अधिकारियों ने स्पष्ट चेतावनी दी कि दोपहर दो बजे तक दुकाने नहीं हटाने वालों की गुमठियां जब्त कर ली जाएगी। इस चेतावनी के बाद सभी दुकानदार काम धंधा छोड़कर गुमठियां हटाने लग गए। इस दौरान कुछ गुमठियां में दुकानदार नहीं आए थे और गुमठियां बंद थी जिसके चलते उन्हें हटाने वाला कोई नहीं था।

दोपहर लगभग ढाई बजे नपा का अतिक्रमण विरोधी अमला जेसीबी मशीन, ट्रैक्टर-ट्राली लेकर गुमठिया हटाने पहुंचा। तब तक अधिकतर दुकानदार अपनी-अपनी गुमठियां खाली कर चुके थे। लेकिन लगभग आधा दर्जन गुमठिया हटाने वाले कोई नहीं थे। जिसके चलते अमले ने इन गुमठियों को जब्त कर नगरपालिका ले गया। कुछ जगह गुमठीधारियों और नपा अमले के बीच विवाद भी हुआ वहीं कुछ गुमठियों के सामने महिलाएं आकर खड़ी हो गई जिससे गुमठी हटाने में परेशानी आई। शाम तक सभी गुमठियां हटा ली गई। जिससे कई दुकानदार बेरोजगार हो गए।

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *