तेंदुआ (नर) का विद्युत करेंट लगाकर शिकार करने वाले आरोपीगणों की जमानत अर्जी को कोर्ट ने किया खारिज

महावीर अग्रवाल
मंदसौर / अमरपाटन १३ जनवरी ;अभी तक; अमरपाटन न्यायालय के न्यायायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी श्रीमती सविता सिंह ठाकुर के द्वारा थाना अमरपाटन के वन परिक्षेत्र अमरपाटन परिक्षेत्र सहायक वृत्त गोरसरी बीट गिधाइला के अंतर्गत वन अपराध प्रकरण क्रमांक 133 /14 दिनांक 27-12-2020
धारा 2(16),9,39,51,52, भारतीय वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 एवं धारा 26 (1) क, 64 भरतीय वन अधिनियम 1927 के तहत आरोपीगण (1) पुष्पराज सिंह पिता छोटेलाल सिंह उम्र 22 वर्ष निवासी ग्राम मझगंवा थाना रामनगर (2) मोतीलाल सिंह पिता लक्ष्मण सिंह गोंड उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम पपरा थाना रामनगर (3) राजभान सिंह पिता सुखदेव सिंह उम्र 40 वर्ष निवासी मझगंवा थाना रामनगर (4) अजय सोंधिया पिता सुखेन्द्र सोंधिया उम्र 22 वर्ष  निवासी हटवा थाना रामनगर (5) सिद्धप्रताप पिता रामकुमार सोंधिया उम्र 34 वर्ष निवासी हटवा थाना रामनगर जिला सतना का जमानत आवेदन आज दिनांक 13/01/2021 को निरस्त किया गया।
मध्य प्रदेश राज्य की ओर से अभियोजन अधिकारी श्री सतीश कुमार वर्मा ने समग्र आधारों पर आरोपीगण के जमानत आवेदन पत्र का विरोध किया।
घटना का संक्षिप्त विवरण: दिनांक 17-12-2020 को करीब शाम 12:30 बजे दिन में वन समिति सदस्य भागवत प्रसाद तिवारी और बाबूलाल द्वारा बिट गार्ड गिधाइला एवं बिट गार्ड बगदरी को सूचना दी गई कि बिट गिधाइला अंतर्गत कक्ष क्र. RF-655 में चोपड़ा से लगभग 300 मी. दूर जंगल मे जंगली जानवर मृत अवस्था मे पड़ा है जिसकी सूचना मिलते ही बिट गार्ड बगदरी के द्वारा बिट गिधाइला के वन समिति के सदस्य और स्थाई कर्मियों को साथ लेकर मौका स्थल पर पहुंचकर मृत जानवर की पहचान की गई जिसमे तेंदुआ (नर) पाया गया जिसकी सूचना वन परिक्षेत्र सहायक और वन परिक्षेत्राधिकारी अमरपाटन को देकर मौका पंचनामा बनाया गया तब दिनांक 28-12-2020 को वनपरिक्षेत्राधिकारी अमरपाटन के हमराह स्टाफ और डॉग स्क्वाड की टीम सहित बिट गिधाइला के कक्ष क्र RF- 655 पहुंचकर सर्च ऑपरेशन चलाया गया सर्च करते हुए वन भूमि से लगे राजस्व भूमि चोपड़ा हनुमान मंदिर से लगभग 40 मी. की दूरी पर गेंहू के खेत मे बांस की खूंटी, GI तार, बिजली का तार , खंभा मौके से मिला तभी मौके में ही जिसका खेत है उसको बुलाया गया और पूछताछ की गई तो उसने बताया कि मैं मोतीलाल, राजभान, अजय, सिद्धप्रसाद, रमाशंकर चतुर्वेदी अपने गेंहू के खेत मे गेंहू की फसल को जंगली जानवर से नुकसान होने से बचाने के लिए खेत के चारो तरफ खूंटी गाड़कर GI तार लगाकर उसमे करेंट लगाते थे जिससे कि जंगली जानवर फंस कर मर जाते थे जब जंगली सुअर फंस कर मरते थे तो हम उन्हें पका कर खा लिया करते थे कल दिनांक 27-12-2020 को जंगली जानवर तेंदुआ फंस कर मर गया था जिसे हम लोगो ने ट्रेक्टर ट्राली में लादकर गिधाइला पहाड़ में डाल दिया था। तब वन परिक्षेत्राधिकारी ने उक्त आरोपीगणों के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर कार्यवाही की और न्यायालय में पेश किया।
उक्त अपराध पर संज्ञान लेते हुए न्यायालय ने अपराध की प्रकृति और अपराध की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए आरोपीगण द्वारा प्रस्तुत जमानत आवेदन को आज दिनांक 13/01/2021 को नामंजूर कर दिया।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *