दशपुर व्यापारी मंडी संघ एवं फॉरेस्ट विभाग के साथियों ने किया शिवना तट पर श्रमदान 

3:54 pm or June 8, 2022
महावीर अग्रवाल
मन्दसौर ८ जून ;अभी तक;  शिवना शुद्धिकरण अभियान के 21वें दिवस मंदसौर के दशपुर व्यापारी मंडी संघ के अध्यक्ष राजेंद्र नाहर, उपाध्यक्ष कन्हैयालाल कुमावत, छगनलाल पारीक ने कई व्यापारियों के साथ शिवना तट पर  तगारी उठाकर भगवान पशुपतिनाथ के नारों के साथ अपने व्यापार का मुख्य आधार जल को सुरक्षित करने के लिए बड़े उत्साह के साथ डेढ़ घंटे तक श्रमदान किया। उनके साथ पूर्व मंडी इंजीनियर शिवेंद्रप्रताप सिंह सतत कार्य करते रहें। उनका एक ही संकल्प है कि हमारा व्यापार इस अमृत रूपी जल पर टिका हुआ है इसके लिए हमें जितनी मेहनत करें कम है और शिवना शुद्धिकरण अभियान के लिए छोटे से निमंत्रण पर मंडी के कई व्यापारी सदस्य प्रातः 7 बजे शिवना तट पर पहुंचे। व्यापारियों ने कहा कि जब भी कोई ऐसे अभियान संचालित करेगा हमारा व्यापारी संघ इसी प्रकार सेवा देता रहेगा।
                   व्यापारी संघ अध्यक्ष राजेंद्र नाहर ने कहा बहुत सुकून मिलता है इस प्रकार के कार्य करके। यह कार्य हमें हमारी शिवना से लगाव पैदा करते हैं हमें खुशी है कि हमें इस अभियान में आमंत्रित किया गया और धन्यवाद है प्रशासन को जो गति से कार्य कर रहा है। बहुत जल्द शिवना का बड़ा रूप देखने को मिलेगा।
                   फॉरेस्ट विभाग के अधिकारी विकास महूरे ने अपने विभाग के कर्मचारियों रघुराज सिंह सिसोदिया और कई साथियों के साथ लगातार डेढ़ घंटे तक श्रमदान किया। उन्होंने संदेश दिया है की बरसात आने वाली है प्रत्येक व्यक्ति जो श्रमदान कर रहा है उन्हें पेड़ लगाना चाहिए। इन पेड़ों के माध्यम से हमें ऑक्सीजन मिलती है और ऑक्सीजन भी इतनी मात्रा में यदि उसका चार्ज जोड़ा जाए एक पेड़ कम से कम 5 से 10 लाख रुपए की ऑक्सीजन प्रतिवर्ष दे देता है जो हमें प्रकृति मुफ्त में देती है। आप से यही प्रार्थना है जितने ज्यादा पेड़ लगाओगे इतनी वर्षा भी ज्यादा होगी। प्रकृति अपने पेड़ों को सूखने नहीं देती, वह सतत वर्षा करती रहती है जो वर्षा कम हुई है उसका मुख्य कारण जंगल समाप्त होना है। सभी के साथ मिलकर पूरे जिले में पेड़ लगाए जाएंगे। आओ हम मिलकर प्रकृति को सुंदर बनाएं और स्वस्थ और सुखी जीवन पाए। यही हमारा संदेश है।
                 सतत सेवा देने वाले श्रमदानियों ने मांग की है नदी के अंदर मछली पकड़ने का काम अभी चल रहा है उसे रोका जाना चाहिए और जो लोग गंदे कपड़े धो रहे हैं उन्हें प्रशासन तत्काल रोके । रामघाट से लेकर मुक्तिधाम तक संपूर्ण एरिया को पवित्र क्षेत्र घोषित किया जाना चाहिए। यह श्रद्धालुओं की मांग है आज सबसे बड़ी समस्या शुद्धिकरण गहरीकरण वालों से ज्यादा इसको जो गंदी कर रहे हैं उनको बचाने के लिए शासन को उपाय करना चाहिए। इस अभियान में जो भी लोग सेवा दे रहे हैं उनकी दिनचर्या परिवर्तन हो चुकी है और स्वास्थ्य लाभ भी मिला है शिवना जनता की आस्था का केंद्र है प्रतिदिन सैकड़ों दर्शनार्थी पहुंच रहे हैं और भगवान पशुपतिनाथ का चढ़ावा भोलेनाथ की कृपा से बहुत मात्रा में आ रहा है। यह पशुपतिनाथ का साक्षात चमत्कार है। यह जानकारी सत्येंद्र सिंह सोम ने दी।