देश में पुजारियों एवं संतों की सुरक्षा हेतु कठोर कानून बनाया जाए

2:12 pm or October 14, 2020
देश में पुजारियों एवं संतों की सुरक्षा हेतु कठोर कानून बनाया जाए  अ.भा. संत धर्म समाज पुजारी समिति ने ज्ञापन देकर प्रधानमंत्री से की मांग
महावीर अग्रवाल
मन्दसौर १४ अक्टूबर ;अभी तक; अ.भा. संत धर्म समाज पुजारी समिति द्वारा देश में पुजारियों एवं संतों पर हो रहे अत्याचार के विरोध में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नाम एक ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर श्री संदीप शिवा को सौंपा तथा देश मंे पुजारियों एवं संतों के संरक्षण हेतु कठोर कानून बनाने की मांग की गई।
                  अ.भा. संत धर्म समाज पुजारी समिति जिलाध्यक्ष डॉ. ओमप्रकाश बैरागी एवं जीवनदास बैरागी हरसौल वाले ने बताया कि आज देश में संतों और पुजारियों पर लगातार अत्याचार हो रहे है और कई जगह उनकी हत्यायें भी हो चुकी है। दबंग लोग मंदिर की जमीनों पर कब्जा करना चाहते है जिससे वह पुजारियों व संतों के साथ मारपीट कर उनकी हत्यायें कर रहे हे। यदि सरकारी मशीनरी सही समय पर अत्याचारियों पर नियंत्रण करने का कार्य करती तो यह स्थिति  नहीं बनती। कई जगह प्रकरणों के निराकरण होने के बाद भी सरकारी अमला फैसले का पालन नहीं करवा पाता है।  जिस प्रकार से करोली जिला थाना सपोटरा के पुजारी बाबूलाल एवं उ.प्र. के गुण्डा में पुजारी को गोली मारना जैसे अनेक जगह घटनाए हुई है अन्य जगह भी अत्याचार हो सकते है। ज्ञापन मंे प्रधानमंत्री से मांग की गई कि संतों और पुजारियों की सुरक्षा हेतु कानून बनाया जाये। सरकारी मशीनरी से प्रकरणों में आये फैसलों पर तत्काल कार्यवाही की जाये। तथा मंदिरों को भूमियों को संरक्षित किया जाये।
                   ज्ञापन देते समय अ.भा. संत धर्म समाज पुजारी समिति जिलाध्यक्ष डॉ. ओमप्रकाश बैरागी, जीवनदास बैरागी हरसौल वाले, रमेशदास बैरागी, सत्यनारायणदास बैरागी पिपली वाला मंदिर, बजरंगदास गुराड़ियादेदा, शांतिदास बैरागी पशुपतिनाथ मंदिर, श्यामदास बैरागी मिण्डलाखेड़ा, गोपालदास बैरागी कोचवी, विनोददास बैरागी मंदसौर, नरेन्द्रदास बैरागी मंदसौर, मनीषदास महुआ, कमलनाथ कामलिया, जगदीशदास बैरागी हरसौल सहित जिले भर के पुजारी उपस्थित थे।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *