दो बलात्कारियों को प्राकृतिक जीवन काल तक आजीवन कारावास, दो लाख छह हजार रुपए का जुर्माना भी

7:29 pm or September 21, 2022
संतोष मालवीय
भोपाल २१ सितम्बर ;अभी तक;  विशेष अपर सत्र न्यायाधीश श्रीमती पदमा जाटव (पास्को) की अदालत ने बुधवार को एक नाबालिग का अपहरण कर बलात्कार करने वाले आरोपी भूरा उर्फ प्रद्युमन एवं कमलेश उर्फ अनुपम उर्फ कम्मू को प्राकृतिक जीवन काल तक जेल में रहने की आजीवन कारावास की सजा के साथ दो लाख छह हजार रुपये के जुर्माने से दण्डित किया है। अदालत ने दोनो आरोपियों को  भादस की धारा 363 में सात वर्ष, धारा 366 में दस वर्ष, धारा 376(घ) तथा सहपठित धारा 5जी/6 पाक्सो एक्ट में दोनो को शेष प्राकृतिक जीवन काल तक आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। उक्त प्रकरण में शासन की ओर से टीपी गौतम ने पैरवी की।
                    अभियोजन पक्ष के अनुसार घटना इस प्रकार से है कि 24 जनवरी 2019 को फरियादिया (पीडिता) ने थाना खजूरी सडक, भोपाल में उपस्थिति होकर बताया कि कमलेश यादव नाम का व्यक्ति मेरी मम्मी का परिचित है जो बैरागढ गांव में रहता है। नंवबर 2020 में कमलेश मेरी मम्मी से मिलने के बहाने घर आता जाता था। जब मेरी मम्मीे काम से बाहर जाती थी तो आरोपी कमलेश उसके घर पर आता था और उसके साथ जबर्दस्ती गलत काम करता था। उन्नीस जनवरी 2021 को रात करीब 9:30 बजे की बात है, आरोपी कमलेश उसके घर पर आया और बोला कि चलो तुम्हे न्यूडल्स खिलाने ले चलता हूँ जब मैने जाने से मना किया तो वह मेरी मम्मी को धमकाने लगा कि तुम्हारी छोटी लडकियो को जान से खत्म कर दूंगा। उसके बाद आरोपी कमलेश उसे रेलवे स्टेशन लेकर गया जहां उसका दोस्त भूरा उर्फ प्रद्युमन भी वहा पर था। दोनो उसे जलसा गार्डन के पीछे सूनसान जगह ले गये थे और बारी बारी से कमलेश और भूरा उर्फ प्रद्युमन ने उसके साथ गलत काम किया था। उसके बाद कमलेश ने उसे रात करीब 1:30 बजे घर छोड दिया था। आरोपी कमलेश की धमकी के डर के कारण वह और उसकी मां रिपोर्ट करने नहीं गए थे। पड़ोसियों की हिम्मत और साहस पर उसने अपनी माँ के साथ थाना जाकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी।
                       पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर दोनो को गिरफ्तार किया और जेल भेज दिया था। विवेचना बाद पुलिस ने अदालत में चालान पेश किया था। जहा फरियादी की गवाही पर अदालत ने आज दोनो को दोषी ठहराते हुए उक्त सजा के साथ जुर्माने से दण्डित किया है।