नई अफीम नीति घोषित 4.2 से 5 की माफिर्न पर 6. 5 से 59 की माफिर्न पर 10 एवं 5.9 से अधिक माफिर्न पर 12 आरी के पट्टे होंगे वितरित

महावीर अग्रवाल
मंदसौर १२ अक्टूबर ;अभी तक;  केंद्र सरकार ने नई अफीम नीति 2021.22 घोषित कर दी। जिससे अफीम उत्‍पादक किसानों को जल्‍द ही अफीम की खेती के लिए पट्टे मिल जाएंगे। मंदसौर सांसद सुधीर गुप्ता लंबे समय से अफीम नीति घोषित कराने और किसान हित के मुद्दों को लेकर वित्त मंत्री व वित्त राज्य मंत्री के संपकर् में थे। उन्होंने किसानों के सुझावों और नीति को लाभकारी बनाने के लिए लगातार जागरूक रहें। जिसके बाद केन्द्र सरकार द्वारा अफीम नीति घोषित कर दी। इस बार 4.2 से 5 तक का अनुपात देने वाले किसानों को 6 आरी का पट्टा मिल सकेगा। 5 से 5.9 तक के अनुपात वाले किसान 10 आरी के पट्टे के पात्र बनेंगे जबकि  5.9 से अधिक रेशो देने वाले किसानों को 12 आरी का पट्टा मिल सकेगा। इसी के साथ ही जिन्होंने अधिकारियों की देखरेख में फसल वषर् 2018.19ए 2019.20 और 2020.21 के दौरान अपनी संपूणर् पोस्त की फसल की जुताई की होए लेकिन जिन्होंने इसी तरह फसल वषर् 2017.18 के दौरान अपनी सम्पूणर् पोस्त फसल की जुताई नहीं की थी। ऐसे अफीम किसान भी अफीम लाइसेंस के लिए पात्र होंगे जो एनडीपीएस प्रकरण में न्यायालय द्वारा बरी हो चुके हों। 31 जुलाई 2021 तक ऐसे मामले वाले किसान लाइसेंस पात्रता की श्रेणी में आएंगे। इसी के साथ ही एनडीपीएस एक्ट में दोषमुक्त किसान भी लायसेंस के पात्र होंगे। इससे क्षेत्र के कई किसान लाभांवित होंगे। वहीं जिन किसानांे को 10 हेक्टेयर से अधिक का लायसेंस प्राप्त है वह एक से अधिक भूखंड पर नियमानुसार खेती कर सकते है।
                सांसद सुधीर गुप्ता ने कहां कि केंद्रीय मंत्री निमर्ला सीतारमण व वित्त राज्य मंत्री पंकज चैधरी ने किसान हित में नीती घोषित की है। नई अफीम नीति से क्षेत्र के कई किसान लाभांवित होंगे। नई नीति किसानों के हिमों और सुझावों को ध्यान में रखकर ही बनाई गई है। भाजपा सरकार किसानों केे हितों के लिए दृढ़ संकल्पित है।

 

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *