नगर परिषद में भर्ती को लेकर भ्रम फैलाया जा रहा-कुशवाहा

6:05 pm or June 19, 2021
नगर परिषद में भर्ती को लेकर भ्रम फैलाया जा रहा-कुशवाहा
मोहम्मद सईद
शहडोल 19 जून ; अभी तक ; संभाग अंतर्गत डोला, डूमर कछार, बनगवा नगर परिषद में भर्तियों को लेकर पिछले कई दिनों से हो रहे हो हल्ला पर वहां के मुख्य नगर पालिका अधिकारी ने स्पष्ट किया है कि उनकी नगर परिषद में इस तरह की न तो कोई नियुक्तियां की गई है और ना ही किसी तरह की कोई नई भर्ती की गई है। उनका कहना है कि कोरोना महामारी को देखते हुए कुछ लोगों को जरूर मस्टर श्रमिक के रूप में रखा गया है।
              डोला, डूमरकछार, बनगवा के मुख्य नगर पालिका अधिकारी राजेंद्र प्रसाद कुशवाहा ने बताया कि मध्य प्रदेश शासन द्वारा मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप अनूपपुर जिले के तीन ग्राम-पंचायत डोला, डूमरकछार, बनगवा का उन्यन नगर परिषद् के रूप में किया गया। जिसका प्रकाशन म.प्र. राज्य पत्र में दिनांक 26 सितंबर 2016 को जारी किया गया। ग्राम-पंचायत के अस्तियां एवं दायित्वों का हस्तानान्तरण जनवरी 2021 में तत्कालीन मुख्य नगर पालिका अधिकारी को किया गया। उन्होंने बताया कि मेरी पदस्थापना मार्च 2021 से कुछ ऐसे लोग जो अपने आप को लोकतंत्र के चौथे स्तंभ से जुड़ा हुआ बताते हैं और समाजसेवी कहते हैं उनके द्वारा मुझ पर दबाव बनाने के उद्देश्य से तथ्य हीन बातों का दुष्प्रचार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जबकि वास्तविकता यह है की नव-गठित तीनों निकायों में कोई भी नई नियुक्ति व भर्ती नही की गई है।
             मुख्य नगर पालिका अधिकारी श्री कुशवाहा ने बताया कि कार्यो की आवश्यकता को दृष्टिगत रखते हुऐ संभागीय संयुक्त संचालक नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग शहडोल द्वारा मस्टर श्रमिक के रूप में कार्य कराने की अनुमति इस शर्त पर दी गई कि कोविड-19 महामारी व सम्पूर्ण लाक-डाउन उपरांत म.प्र. नगर पालिका लेखा एवं बिल नियम 2018 के नियम 119 (2) में विभिन्न कार्यों/सेवाओं के लिये मानव शक्ति का नियोजन के संबंध में प्रावधान अनुसार कार्यवाही करके पद पालन में दी गई अनुमति के आधार पर जनप्रतिनिधियों की अनुसंशा अनुसार स्थानीय लोगां को श्रमिको के रूप में कार्य पर रखा गया है।
                उन्होंने यह भी कहा कि उक्त तथाकथित लोगों द्वारा मुझ पर निरंतर दबाव बनाया जा रहा है। इतना ही नहीं इन्हीं में से एक व्यक्ति द्वारा दबाव बनाकर अपनी पत्नी को कार्य पर रखे जाने का आवेदन भी किया गया है। मुख्य नगर पालिका अधिकारी श्री कुशवाहा का यह भी कहना है कि उक्त  लोगों द्वारा उनके संबंध में जिस तरह भ्रामक और दुष्प्रचार किया गया है वह उक्त सभी बातों को लेकर न्यायालय भी जा रहे हैं।