नवविवाहिता की  दहेज प्रताड़ना से मौत के मामले में 2 महिलाओं सहित 4 पर केस दर्ज

मयंक शर्मा
खंडवा २ सितम्बर ;अभी तक;  नगर के मोघट रोड निवासी नव विवाहिता आरेफा बी द्वारा े 23 अगस्त को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। मामले की जांच उपरांत  नगर पुलिस अधीक्षक ललित गठरे ने बीती बुधवार  रात  मोघट थाने में ससुराल पक्ष के चार ं आारोपियों के खिलाफ दहेज प्रताड़ना की धाराओं में केस दर्ज कराय है।
                 सीएसपी श्री गठरे ने बताया कि जिन लोगों के खिलाफ अपराध दर्ज किया है उनमे ं मृतिका का पति शेख मुजाहिद पिता शेख असगर, सास रिहाना पति शेख असगर, देवर मोहसीन पिता शेख असगर व देवरानी इमराना पति मोहसीन शमिल है। उन्होने बताया कि करीब एक हफते पहले आरेफा बी ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी।
               उन्होने कहा कि पडताल में यह बात सामने आई कि ससुराल वालों ने दहेज की मांग कर वधु आरेफा बी पर काम का दबाव बनाया। बेबस होकर आरेफा बी ने आत्महत्या का कदम उठाया। मृतका के परिवार वालों ने घटना बाद कहा कि, आरेफा परेशान होकर जान नहीं दे सकती, उसकी हत्या हुई है। मोघट थाने के पीछे पटेल मार्ग निवासी आरेफा बी ने 23 अगस्त को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।
                 विवाहिता की मौत पर परिजन उसके पति-सास व देवर-देवरानी पर  हत्या का मामला दर्ज कराने अड़े और हंगामा मचाया था। मृतिका आरेफा बी की मां उमर बी (बोरगांव बुजुर्ग) का कहना था  कि शादी के बाद से उनकी बेटी शारीरिक व मानसिक प्रताड़नाएं झेल रही थी। मौत की खबर भी 3 घण्टे बाद दी थी। मां ने ासाफ तौर पर कहा कि उसकी बेटी आरेफा की हत्या हुई, उसे इंसाफ मिलना चाहिए।