नवीन कलेक्ट्रेट भवन परिसर को 12 मिनी प्रोजेक्ट में विभाजित कर विभिन्न प्रजाति के 3000 से अधिक वृक्ष लगाए जाएंगे

9:50 pm or June 18, 2021
नवीन कलेक्ट्रेट भवन परिसर को 12 मिनी प्रोजेक्ट में विभाजित कर विभिन्न प्रजाति के 3000 से अधिक वृक्ष लगाए जाएंगे
महावीर अग्रवाल
मंदसौर 18 जून ;अभी तक;  इन दिनों सुशासन भवन स्थित परिसर में सौंदर्यीयकरण,  वृक्षारोपण व वर्षा जल संरक्षण का वृहद कार्य किया जा रहा है। परिसर को कुल 12 भागों में विभाजित किया गया है। इस परिसर में लगभग 3000 वृक्ष विभिन्न प्रजातियों के लगाए जाएंगे। सांसद श्री सुधीर गुप्ता, विधायक श्री यशपाल सिंह सिसोदिया, कलेक्टर श्री मनोज पुष्प द्वारा सुशासन भवन परिसर में वृक्षारोपण व सौंदर्यीकरण के कार्य का अवलोकन किया गया।
कलेक्टर श्री मनोज पुष्प द्वारा बताया कि परिसर में आने वाले आगंतुकों, अधिकारियों, कर्मचारियों व सभी नागरिकों की सुविधा के लिए एक पार्क, खेल की सुविधा हेतु लॉन टेनिस, बॉस्केटबॉल, वालीबॉल, कबड्डी, टेबल टेनिस का मैदान बनाया जा रहा है। पानी की पर्याप्त व्यवस्था हो इसके लिए एक पेरकॉलेशन पोंड, एक पॉली पोंड बनाया जा रहा है जिनमे लगभग 30 लाख लीटर पानी का संरक्षण किया जाएगा तथा साथ ही मछलीपालन व बतख, कछुआ पालन की भी कार्ययोजना है। आर्नामेंटल पौधों का सुंदर परिसर बनाया जा रहा है। मियांवाकी तकनीक से एक मिनी जंगल भी लगाया जा रहा है। औषधि व मेडिसिनल पौधों का एक गार्डन का विकास किया जा रहा है। कैंटीन के सामने सुंदर बैठक व्यवस्था का निर्माण हो रहा है तथा कार्यक्रमों के आयोजन के लिए ओपन एयर थिएटर बनाने की भी कार्ययोजना है। साथ ही एक ओपन जिम स्थापित भी किया जाएगा।
मुख्य कार्यपालन अधिकारी, ज़िला पंचायत श्री ऋषव गुप्ता द्वारा सभी कर्मचारी संगठनों, गैर सरकारी संस्थाओं, सिविल सोसाइटी के समूहों व  सम्मानीय नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि इस जल संरक्षण व वृक्षारोपण के वृहद कार्य के लिए 04 माध्यमों से सहयोग प्रदान कर सकते हैं।  सबसे पहले वृक्षारोपण हेतु श्रमदान के सहयोग की अपील की गई जिसमें कोई भी संस्था/समूह/संघ 50 लोगों की एक दिवसीय श्रमदान की योजना बना सकते हैं। श्रमदान हेतु नोडल अधिकारी सहायक इंजीनयर श्री सुनील व्यास (मोब : 9425107289) रहेंगे। श्रमदान के लिए उपकरण कलेक्ट्रेट से ही प्रदान किये जाएंगे।
सहयोग का दूसरा माध्यम है पौधे उपलब्ध करवाना। श्री गुप्ता द्वारा बताया गया कि 40 से अधिक प्रजातियों के पेड़ – पौधे परिसर में लगाये जायेंगे। बहुत से पौधे शासकीय नर्सरियों से प्राप्त किये जा रहे हैं।  जन सहयोग में कुछ विशेष प्रजाती के पौधों की अपील की गई जैसे रॉयल पाम, अशोक, केशिया सायमा, मौलश्री, बौटलब्रश, सफेद चंपा, सेमल, सप्तपर्णी, अमलतास, इमली, बिल पत्र, बादाम, खीरणी, पलाश, कदम व कनकचम्पा के पौधे (पांच फीट या अधिक ऊंचाई के) उपलब्ध करवा सकते हैं।
सहयोग के तीसरे माध्यम के लिए श्री गुप्ता ने बताया कि एक वृक्ष को लगभग शुरुआती 03 साल की देखरेख की आवश्यकता होती है।  प्रत्येक वृक्ष हेतु सालाना देख रेख के लिए 1000/- (एक हज़ार रुपये) की राशि का दान भी दिया जा सकता है। कलेक्ट्रेट जनभागीदारी विकास समिति के नाम से बना हुवा भारतीय स्टेट बैंक का खाता क्रमांक 34309905827 एवं आईएफएससी कोड SBIN0016550 में धनराशि जमा कर सकते हैं। इस हेतु नोडल अधिकारी, नाज़िर कलेक्टर कार्यालय, श्री ठाकरे (मोब 9617035029) रहेंगे।
सहयोग के चौथे माध्यम में सौन्दर्यकरण हेतु बैठक बेंच, झूले, पानी के फाउंटेन व ओपन जिम के उपकरण भी दान में दिए जा सकते हैं। इस कार्य हेतु नोडल अधिकारी मंदसौर अनुविभागीय अधिकारी श्री बिहारी सिंह (मोब 8770323945) रहेंगे। यदि कोई सम्मानीय जन पितरों की याद में नाम लिखे हुए उपकरण / बैठक बेंच भी दान देना चाहें तो उनका भी स्वागत है।
कलेक्टर श्री मनोज पुष्प द्वारा बताया गया कि इस वृहद प्रोजेक्ट को सफल मात्र जनसहयोग के माध्यम से ही बनाया जा सकता है। अनेक कर्मचारी संगंठनों व गैर सरकारी संगठनों से लगातार सुझाव व सहयोग प्राप्त किये जा रहे हैं।