नवीन कॉलेज बने 1 वर्ष भी नहीं हुआ और बिल्डिंग में बड़ी-बड़ी दरारें, बरसात में गिरने का डर

भिंड से रवि शर्मा

भिंड ६ सितम्बर ;अभी तक; भिंड जिले के आलमपुर कस्बे मैं छात्रों की पढ़ाई की सुविधा के लिए नवीन कॉलेज बनाया गया जिसकी लागत तकरीबन 7 करोड़ के आसपास आइ । इस 7 करोड़ को वह बिल्डिंग को बने 1 साल भी पूर्ण नहीं हो पाया और बिल्डिंग में आने लगी दरारें एक नहीं सैकड़ों जगह दरारें बड़ी-बड़ी पर कहीं यही हाल रहा तो कहीं बड़ी हादसा ना हो जाए ।

आलमपुर जिला भिंड में छात्रों की पढ़ाई की सुविधा के लिए तकरीबन ₹700000 के लगभग बनाई गई सरकारी कॉलेज की हालत बदहाल हैं अभी उद्घाटन को 1 साल भी पूर्ण नहीं हो पाया और उसने पहले से ही है सैकड़ों जगह दरारें आ गई हैं जो निर्माण में गड़बड़ी की पोल खुल रही है इसके बावजूद अभी तक जिम्मेदार अधिकारियों ने मामले में कोई कार्रवाई नहीं की है इस 2 अक्टूबर को महाविद्यालय 2020 को हुआ था उद्घाटन कॉलेज भवन के निर्माण की कोल पहली बारिश में ही खुल गई कई सालों तक की सुविधा के लिए आलमपुर में कॉलेज भवन के लिए करोड़ों की लागत से भवन का निर्माण किया गया उसका गांधी जयंती के मौके पर 2 अक्टूबर 2020 को तत्कालीन शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी के समय किया गया था भवन के उपयोग की शुरुआत को 1 साल भी पूरा नहीं हो पाया इससे पहले ही इसकी दीवारों में चारों तरफ दरारे पड़ रही है कहीं यह स्थिति कमरे के भीतर हिस्से में भी हो सकती है भवन के बाहर भी दीवारों में दरार आ गई अभी तो निर्माण एजेंसी की वारंटी में मैं 1 वर्ष की गारंटी तो होगी निर्माण करने वाली कंपनी को अभी पूर्ण भुगतान न किया गया हो तो शायद रकम को रोककर निर्माण निर्माणाधीन एजेंसी से वारंटी के तहत कम से कम रिपेयरिंग तो हो जाएगी या शायद उस समय रहे जो अधिकारी वह कहीं रिटायर ना हुए हैं और जाते-जाते निर्माण कंपनी एजेंसी को पूर्ण घुटन तो नहीं कर गए अगर कर गए होंगे पूर्ण भुगतान तो मध्य प्रदेश शासन को लग जाएगा 7 करोड़ों का चूना और अधिकारियों द्वारा कमीशन खोरी के कारण बिल्डिंग मटेरियल में गुणवत्ता हीन हो गई तू मध्य प्रदेश शासन को लग जाएगा 7 करोड़ का चूनाजाएगी शासन को लग जाएगा इसका कारण गुणवत्ता हीन मटेरियल लगा होगा तो अधिकारियों की लीपापोती कमीशन खोरी सब सामने आ जाएगी