नागरिकगण अंकुर अभियान के तहत पौधे लगाएं और पर्यावरण बचाएँ ; मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किया आव्हान

सौरभ तिवारी
होशंगाबाद ५ नवंबर ;अभी तक; गोर्वधन पूजा पर्व पर उज्जैन में आयोजित  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कार्यक्रम का लाईव प्रसारण  होशंगाबाद कलेक्ट्रेट में स्थित वी सी रूम में एनआईसी के माध्यम से भी किया गया। इस अवसर पर कमिश्नर नर्मदापुरम मालसिंह भयडिया , कलेक्टर नीरज कुमार सिंह  तथा जनअभियान परिषद के कार्यकर्ता एवं अंकुर अभियान के स्वयं सेवक उपस्थित रहे। अंकुर अभियान के तहत आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गोवर्धन पूजा , प्रकृति का पूजा करने का सन्देश है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेशवासियों से आव्हान किया कि पर्यावरण को बचाने के लिए आम जन अधिक से अधिक अपने शुभ कार्यों के समय पौधारोपण जरुर करें। पेड़ लगाने के साथ साथ उसे बचाना भी हम सभी के लिए जरुरी है, तभी हम पर्यावरण को बचा पायेंगे।
                    मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने पर्यावरण संरक्षण के पवित्र कार्य में लगे अंकुर अभियान के समस्त सदस्यों को साधुवाद देते हुए दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय पुनर्जागरण के महाभियान में हमारा देश और अधिक शक्तिशाली बनेगा। देश के प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी के नेतृत्व में एक वैभवशाली भारत का निर्माण होगा। भगवान श्री कृष्ण ने पांच हजार साल से अधिक पहले ही प्रकृति की पूजा करने का सन्देश दिश था। गोवर्धन पूजा कोई कर्मकांड नहीं है बल्की पर्यावरण को बचाने का सन्देश है। धरती का तापमान धीरे-धीरे बढ़ रहा है और उसे रोकना अति आवश्यक है। इसके लिए हम सब मिलकर अपनी धरा पर अधिक से अधिक पेड़ लगाएं। सरकार ने अंकुर अभियान प्रारंभ किया है।
                   मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने गोवर्धन पूजा के अवसर पर भूस्वामियों से आव्हान किया कि प्रकृति की रक्षा के लिए वे अधिक से अधिक सौर ऊर्जा संयंत्र लगाएं। उनसे उत्पन्न होने वाली बिजली सरकार खरीदेगी। प्रदेश में ऊर्जा के लिए काफी काम किए जा रहे हैं। । उन्होंने कहा कि अभी तक कोयले और पानी से ही बिजली का उत्पादन किया जा रहा है। परन्तु अब सूर्य से भी बिजली का उत्पादन किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने जनता से आव्हान भी किया कि वे जरुरी होने पर ही बिजली जलाएं। बिजली का अपव्यय न करें। बिजली की बचत करें।