नागरिकों द्वारा भेजी गई कचरे की फोटो पर नगरपालिका करेगी सफाई

सौरभ तिवारी

होशंगाबाद ११ नवंबर ;अभी तक;  जिले की सभी नगरीय निकाय अंतर्गत सभी वार्डों में नागरिकों के दल गठित किए जायेंगे, जो अपने-अपने क्षेत्रों में साफ सफाई कार्य की मॉनिटरिंग करेंगे। साथ ही साफ सफाई सही ढंग से हुई है या नहीं इसकी जानकारी भी फोटो सहित स्वच्छता सर्वेक्षण एप और नगर पालिका द्वारा जारी व्हाट्सएप नंबर पर शेयर कर सकेंगे। दल द्वारा भेजी गई कचरे की फोटो पर नगर पालिका द्वारा त्वरित सफाई सुनिश्चित की जायेगी। इस संबंध में कलेक्टर होशंगाबाद नीरज कुमार सिंह ने सभी मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को निर्देश दिए है। गुरुवार को कलेक्टर ने कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में जिले की सभी नगरीय निकायों अंतर्गत आधारभूत सेवाओं की प्रदायगी एवं विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों की विस्तार से समीक्षा की।

      सभी मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि वे अपने क्षेत्र में रात्रिकालीन सफाई के अतिरिक्त प्रतिदिन प्रातः 8:00 बजे तक संपूर्ण शहर की साफ-सफाई किया जाना सुनिश्चित करायें। एक बार सफाई किए गए स्थान पर पुनः कचरा फैलाने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध जुर्माने की कार्रवाई की जाए। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि सभी निकायों में स्ट्रीट लाइट एवं जल प्रदाय सेवा का प्रभावी तरीके से प्रदायगी सुनिश्चित करें। स्ट्रीट लाइट को सूर्योदय होने के 15 मिनट पहले बंद और सूर्यास्त के 15 मिनट पश्चात चालू किया जाए , ताकि उनका मितव्यता के साथ समुचित सदुपयोग हो सके। सभी स्ट्रीट लाइट चालू रहे, बंद पड़ी स्ट्रीट लाइट को मरम्मत कर शीघ्र चालू करवाएं। इसी तरह नगरीय क्षेत्रों में जल प्रदाय के प्रत्येक निर्धारित पॉइंट पर मीटरवार बिजली बिल का परीक्षण कर यह आकलन करें कि पंप की क्षमता के अनुरूप जल प्रदाय में कितना समय लगना चाहिए और प्रत्येक घंटे में कितनी बिजली की खपत होना चाहिए, उसी अनुरूप पाइपलाइन की क्वालिटी सुधार, मरम्मत एवं अन्य आवश्यक कार्रवाई कर जल प्रदाय के पंपों को ऑपरेट किया जाए। ऐसे क्षेत्रों को चिन्हित करें जहां पानी नहीं पहुंच पा रहा है वहां बूस्टर पंप लगाकर जल प्रदाय किया जाए।

     अमृत योजना के तहत जल प्रदाय व्यवस्था में संबंधित ठेकेदार को समय पर भुगतान किया जाए तथा किसी भी स्तर पर लापरवाही की दशा में राशि कटौती की कार्यवाही करे।

      कलेक्टर श्री सिंह ने बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना, पीएम स्व निधि योजना, आवारा पशुओं से मुक्त अभियान आदि कार्यक्रमों की भी विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के क्रियान्वयन में पूरी पारदर्शिता बरतने के निर्देश मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि सभी नगर पालिका कार्यालयों में प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभान्वित हितग्राहियों एवं आवास प्लस में जोड़े गए नामों की सूची नाम और स्वीकृत राशि सहित चस्पा की जाए। 20 नवंबर तक सर्वे कर प्रधानमंत्री आवास योजना के पात्र हितग्राहियों के नाम की सूची अनिवार्य रूप से डूडा कार्यालय भेजना सुनिश्चित करें। उन्होंने पीएम स्व निधि योजना के प्रकरणों को शीघ्र स्वीकृत एवं वितरित कराने के निर्देश दिए। सभी मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे शीघ्र अपने शहरों को आवारा मवेशियों से मुक्त बनाने की कार्रवाई सुनिश्चित करें।

बैठक में परियोजना अधिकारी शहरी विकास अभिकरण एवं डिप्टी कलेक्टर श्रीमती मोहिनी शर्मा सहित समस्त मुख्य नगरपालिका अधिकारी उपस्थित रहे।