नाबालिंग बालिका के साथ छेडछाड करने वाले आरोपी को 05 वर्ष का कठोर कारावास

2:22 pm or April 30, 2022
विधिक संवाददाता
भिंड ३० अप्रैल ;अभी तक; न्यायालय  श्री तरूण सिंह, षष्टम अपर सत्र न्यायाधीश जिला भिण्ड ने नाबालिंग बालिका के साथ छेडछाड करने वाले आरोपी को 05 वर्ष का कठोर कारावास की सजा सुनाई है
                           प्रकरण का अभियोजन संचालन श्री अरविंद कुमार श्रीवास्तव जिला अभियोजन अधिकारी भिण्ड के निर्देशन में श्री प्रवीण सिंह सिकरवार, विशेष लोक अभियोजक/ एडीपीओ द्वारा किया गया ।
                    मीडिया सेल प्रभारी श्री के0पी0 यादव द्वारा बताया गया कि दिनांक 18.09.2021  को सुबह के लगभग 10ः00 बजे अभियोक्त्री, अभियुक्त गिर्राज भदौरिया के घर मोबाइल फोन चार्ज करने के लिए गई थी। तभी वहां से वापस आते समय अभियुक्त गिर्राज उसके पीछे आया और थोडी दूर खेत की मेड  के पास आकर बुरी नीयत से अभियोक्त्री गोद में उठाकर खेत में ले जाने लगा। अभियुक्त ने धमकी दी कि किसी को बोला तो जान से खत्म कर दूंगा। अभियोक्त्री के चिल्लाने पर उसकी माता वहां आ गई। उसे देखकर अभियुक्त भाग गया। घर पर कोइ्र पुरूष नहीं होने से दिनांक 20.09.221 को उक्त घटना की प्रथम सूचना रिपोर्ट थाना अटेर जिला भिण्ड में लेख कराई। विवेचना उपरान्त अभियोग पत्र माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया।
                न्यायालय श्री तरूण सिंह, षष्टम अपर सत्र न्यायाधीश, जिला भिण्ड म0प्र0 द्वारा विचारण  पश्चात् अभियुक्त प्रदीप उर्फ गिर्राज सिंह पुत्र अभिलाख सिंह भदौरिया, उम्र 25 वर्ष निवासी ग्राम अंगदपुरा थाना अटेर, जिला भिण्ड (म0प्र0) को धारा 9एम/10 पॉक्सो अधिनियम में 05 वर्ष के कठोर कारावास एवं 10000 रूपये के अर्थदण्ड एवं धारा 354 भादंसं में 03 वर्ष का कठोर कारावास एवं 5000 रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किया गया।