नाबालिक के साथ बलात्संग करने वाले आरोपी को 20 वर्ष का सश्रम कारावास

10:39 pm or May 11, 2022
महावीर अग्रवाल
मंदसौर , सतना ११ मई ;अभी तक; न्यायालय विशेष न्यायाधीश पाक्सोा एक्ट श्रीमती शिल्पा  तिवारी द्वारा जीतू एलवार्ट तनय  स्व0 राजेश एलवार्ट उम्र  31  निवासी राजेन्द्र नगर खूंथी गली नं0 13 थाना सिटी कोतवाली जिला  सतना  को धारा 363 भादवि में 01  वर्ष का सश्रम कारावास एवं 1000 रू0 का अर्थदण्ड  , 366 भा0द0वि0 में  3  वर्ष का सश्रम कारावास एवं  1  हजार रू0 का अर्थदण्ड एवं 376  (3)  भा0द0वि0 में  20  वर्ष का सश्रम कारावास एवं 2 हजार रू0 का अर्थदण्ड  में  दण्डित किया गया । धारा 6 पाक्सो अधि0 के अन्तर्गत 20 वर्ष का  सश्रम कारावास  2 अर्थदण्ड से दण्डित किया गया ।  मामले में राज्य की ओर से पैरवी अति0 जिला अभियेाजन अधिकारी /  विशेष लोक अभियोजक श्रीमती ज्योति जैन द्वारा की गई ।
     अभियोजन प्रवक्ता हरि कृष्ण   त्रिपाठी ने बताया कि अभियोक्त्री के पिता ने  थाना सिविल लाइन में इस आशय से मौखिक रिपोर्ट की दिनांक 03/10/2019  को सुबह 8 बजे दूध पहुंचाने लगारवाले के यहॉ चला गया था उसकी पुत्री अभियोक्त्री एवं पत्नी घर पर थी । करीब 09:30 घर वापस आया तो अभियोक्त्री घर पर नहीं थी तब उसने अपनी पत्नी से पूछा कि अभियोक्‍त्री नहीं दिख रही है तब उसकी पत्नी  बोली कि यही कही होगी । तब आस पडोस व रिश्तेदारी में  फोन से पता किया लेकिन कोई पता नहीं चला । उक्त रिपोर्ट केआधार पर थाना सिविल  लाइन में अभियोक्त्री  के गुमने की रिपोर्ट  गुम इंसान क्रमाक 77/19 दर्ज किया गया । अभियोक्त्री के दस्तयाब होने पर उसने आरोपी जीतू एलवार्ट के द्वारा उसे बाहर ले जाकर उसके साथ गलत काम करना बताया ।
विवेचना  के दौरान घटना स्थल का नक्शा मौका अभियोक्त्री का मेडिकल परीक्षण ,दस्तयाबी पंचनामा तथा अभियोक्त्री  के धारा 164 द0प्र0सं0 के कथन तथा साक्षियो के 161 के कथन तथा अभियोक्त्री के विद्वालय का जन्म‍ संबंधित प्रमाण पत्र तथा अभियुक्त का मेडिकल परीक्षण कराया गया , अभियुक्त के विरूद्व अपराध प्रथम दृष्टतया प्रमाणित पाये जाने पर अभियुक्त को गिरफ्तार कर माननीय न्याया0 के समक्ष आरोप पत्र पेश किया गया ।