नाबालिक लडकी के साथ कुकृत्य करने वाले आरोपी को जिंदा रहने तक की सजा

10:22 pm or January 25, 2023

दीपक शर्मा

पन्ना २५ जनवरी ;अभी तक; जिला लोक अभियोजन अधिकारी पन्ना के मीडिया प्रभारी/सहा.जिला लोक अभियोजन अधिकारी ऋषिकांत द्विवेदी ने बताया कि अभियोजन कहानी संक्षेप में इस प्रकार है कि दिनांक 17.05.2021 को पीडिता उम्र 17 वर्ष थाना गुनौर की अपनी माता-पिता के साथ थाना में उपस्थित होकर एक लिखित आवेदन इस आशय का दिया कि अरूण चौधरी एवं उमेन्द्र चौधरी द्वारा जबरन शारीरिक संबंध बनाये जाने के संबंध में पेश किया, आवेदन पर आरोपी अरूण चौधरी एवं उमेन्द्र चौधरी के विरूद्ध अपराध धारा 376(2) (एन), 376-डी, 376, 450, 506, 34 भादस पाक्सो एक्ट तथा अन्य धाराओं के तहत अपराध पाये जाने से थाना गुनौर में अपराध क्रमांक 183/2021 पंजीबद्ध किया गया। दौरान विवेचना पीडिता के धारा 161 जा.फौ. के कथन, साक्षियो के कथन लेखबद्ध कर, घटनास्थल का नजरी नक्शा तैयार किया गया। पीडिता के 164 जा.फौ. के कथन कराये, जिसमें पीडिता द्वारा अरूण चौधरी एवं उमेन्द्र चौधरी दोनो निवासी छिगम्मा द्वारा पितर अमावस्या के तीन चार दिन पहले घर में घुसकर शरीरिक संबंध बनाना, जान से मारने की धमकी देना, जिसके कारण गर्भवती हो जाना अपने कथनों में बताया।

सम्पूर्ण विवेचना उपरांत अभियुक्तगण के विरूद्ध भादवि की धारा 376(2) (एन), 376-डी, 376, 450, 506, 34 भादस एवं पाक्सो के अंतर्गत अभियोग पत्र माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया। मामले की गंभीरता को देखते हुये जिला स्तरीय समिति द्वारा मामले को जघन्य एवं सनसनीखेज प्रकरण की श्रेणी में रखकर मॉनीटरिंग की गयी। माननीय न्यायालय इंद्रजीत रघुवंशी विशेष न्यायाधीष (पाक्सो) एक्ट के न्यायालय में प्रकरण का विचारण हुआ। शासन की ओर से पैरवी जिला अभियोजन अधिकारी संदीप कुमार पाण्डेय के मार्गदर्शन में विषेष लोक अभियोजक/सहा. जिला लोक अभियोजन अधिकारी दिनेश खरे द्वारा की गयी।