नाबालिग बलात्कार पीडिता को मिली गर्भपात की अनुमत्ति

सिद्धार्थ पाण्डेय

जबलपुर १४ सितम्बर ;अभी तक;  हाईकोर्ट जस्टिस नंदिता दुबे की एकलपीठ ने नाबालिग बलात्कार पीडिता को गर्भपात की सषर्त अनुमत्ति प्रदान की है। युगलपीठ ने अपने आदेष में कहा है कि भ्रण का डीएनए टेस्ट आवष्यक रूप से करवाया जाये।

नाबालिग बलात्कार पीडिता के गर्भपात की अनुमत्ति के लिए उसकी माॅ ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। याचिका पर सोमवार को हुई सुनवाई के दौरान पेष की गयी मेडिकल रिपोर्ट का अवलोकन करने के बाद पाया कि बच्ची का गर्भ 6 सप्ताह 6 दिन का है। मानसिक व षरीरिक रूप से बच्चे को जन्म देने में सक्षम नहीं है। बच्चे के जन्म देने में बच्ची को जान का खतरा है। एकलपीठ ने मेडिकल रिपोर्ट का अवलोकन करने के बाद बच्ची को सषर्त गर्भपात की अनुमत्ति प्रदान की है।

एकलपीठ ने अपने आदेष में कहा है कि बच्ची का गर्भपात मेडिकल या षासकीय अस्पताल में स्पेषलिस्ट डाॅक्टरों की टीम द्वारा किये जाये। बच्ची को सुरक्षित मेडिकल सुविधा उपलब्ध करवाई जाये और भ्रण का डीएनए टेस्ट करवाया जाये। गर्भपात की सहमत्ति के संबंध में पीडिता की माॅ द्वारा हलफनामे में सहमत्ति दी जाये। याचिकाकर्ता की तरफ से अधिवक्ता षांतनु अयाची ने पैरवी की।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *