नाबालिग से घर में घुसकर छेडछाड के आरोपी को हुआ 5 वर्ष का सश्रम कारावास

6:09 pm or May 6, 2022

महावीर अग्रवाल 

मंदसौर ६ मई ;अभी तक;  विषेष न्यायधीष पॉक्सो एक्ट डॉ. प्रीति श्रीवास्तव मंदसौर द्वारा आरोपी अम्बाराम पिता भेरूलाल पाटीदार 59 वर्ष नि0 42 शांतनु विहार स्टेषन रोड मंदसौर को नाबालिग से घर में घुसकर छेडछाड करने का दोषी पाते हुए धारा 452 भादवि में 3 वर्ष का सश्रम कारावास धारा 354 में 1 वर्ष का सश्रम कारावास 9एन/10 पॉक्सो एक्ट में 5 वर्ष  सश्रम कारावास व कुल 10 हजार रूपये जुर्माना से दण्डित किया।
मंदसौर अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी द्वारा बताया गया मामला इस प्रकार है कि पीडिता ने अपने माता-पिता के साथ थाने पर उपस्थित होकर एक लिखित आवेदन प्रस्तुत किया कि दिनांक 29.01.2020 को वह घर पर अकेली थी उसके माता-पिता व परिजन खेत पर गये थे तब शाम 4 बजे उसके फूफा अम्बाराम उसके घर पर आये व आवाज लगाई कि घर पर कौन है तब वह किचन से निकलकर आई और फूफा के पैर छुए तक फूफाजी बोले की और कौन-कौन घर पर है उसने कहा कि वह अकेली है मम्मी-पापा खेत पर गये है। तब फूफा अम्बाराम ने उसे बाहों में जकड लिया व उसके गाल पर पप्पी लेने लगे तो उसने विरोध किया और कहा कि आप यह क्या कर रहे हो तब फूफा बोला कि तुमसे प्यार कर रहा हूं किसी को बोलना मत और बुरी नियत से उसके साथ छेडछाड करने लगे तब वह चिल्लाई और घर के बाहर निकलकर मम्मी-पापा को फोन किया तब उसके फूफा घर से चले गए। उसके माता-पिता के आने पर फूफा फिर से उसके घर आ गये थे उसके पापा से बात कर चाय पीकर चले गये थे फूफा के जाने के बाद उसने सभी बातें माता-पिता को बताई। घटना से उसे तकलीफ हुई थी वह बीमार हो गई थी स्वास्थ्य में सुधार होने पर माता-पिता के साथ थाने आकर लिखित आवेदन दिया। जिस पर से आरोपी अम्बाराम पाटीदार के विरूद्ध थाना भावगढ पर अप0क्र0 13/2020 अंतर्गत धारा 452,354 भादवि व 7/8, 9एन/10 पॉक्सो के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। प्रकरण में संपूर्ण विवेचना उपरांत अभियोग पत्र न्यायालय में पेष किया गया।
प्रकरण में अभियोजन का सफल संचालन विषेष लोक अभियोजक श्रीमती हेमलता बामनिया द्वारा किया गया।