निपानिया के माँ अम्बे के मंदिर में स्वचलित घंटी घड़ियाल भेंट की गई

4:49 pm or November 16, 2020
निपानिया के माँ अम्बे के मंदिर में स्वचलित घंटी घड़ियाल भेंट की गई
महावीर अग्रवाल 
 
मन्दसौरं १६ नवंबर ;अभी तक; दलौदा मार्ग स्थित ग्राम निपानिया मेघराज में 32 वर्ष पूर्व स्थापित माँ अम्बे की स्थापना तत्कालीन समाजसेवी सिन्धी समाज के वयोवृद्ध प्रमुख एवं समाजसेवी श्री आसनदास सतीदासानी की उपस्थिति में की गई थी। यह चमत्कारी प्रतिमा समीप ही स्थित दरगाह वाली बावड़ी में से किसी ग्रामवासी को स्वप्न दर्शन के बाद निकाली गई थी तथा निपानियां मेघराज ग्राम में स्थित माता भेजासरी चबूतरे के पास विधि विधान से स्थापित की गई थी। जहां माँ अम्बे का छोटा मंदिर बनाया गया है। धनतेरस के अवसर पर आसनदास सतीदासानी के सुपुत्र रमेश सतीदासानी में अम्बे माता के मंदिर में स्वचलित इलेक्ट्रानिक घंटी घड़ियाल भेंट की। इस अवसर पर श्री आसनदास सतीदासानी के साथ वरिष्ठ पत्रकार पं. अशोक त्रिपाठी, रमेश सतीदासानी थे। ग्राम के सरपंच पति मांगीलाल चौधरी कुमावत, भुवानीलाल रावत, शंकरलाल कटारिया, भंवरलाल पुजारी, मुकेश चौहान सहायक सचिव ग्राम पंचायत सेतखेड़ी, गोवर्धनलाल गायरी, पत्रकार प्रकाश दोसावत, गोवर्धन धनगर आदि उपस्थित थे।
                    ज्ञातव्य है कि उक्त प्रतिमा स्थापना के समय श्री आसनदास सतीदासानी के अलावा धर्मसेवी बद्रीभाई सांखला, समाजसेवी मन्नालाल ठेकेदार, पत्रकार पं. अशोक त्रिपाठी भी साथ थे। उस समय के चित्र की तस्वीर आज भी मंदिर में लगी है।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *