नेपाल-भूटान सीमा पर तैनात होगी गांव की बेटी, आर्मी में पहली बेटी का चयन होने पर गांव में हर्ष

8:36 pm or April 29, 2022

मयंक भार्गव

बैतूल २९ अप्रैल ;अभी तक;  सेना में भर्ती होकर देश भक्ति का जज्बा पूर्ण करने का जुनून लिए एक बेटी ने आर्मी भर्ती में हिस्सा लिया था। भर्ती में चयनित होने के बाद अब भूटान और नेपाल सीमा पर पोस्टिंग होगी। गांव की पहली बेटी का आर्मी में चयन होने पर समूचे गांव में खुशी का माहौल है। बेटी के गांव पहुंचने पर ग्रामीणों ने उसका फूल मालाओं से स्वागत किया है। यह वाक्या जिले के मुलताई ब्लाक के अंतर्गत आने वाले ग्राम बांडिया खापा का है। यहां की बेटी ज्योति पहली ऐसी लड़की है जिसका आर्मी में चयन हुआ है।

मुलताई ब्लाक के ग्राम बांडिया खापा की ज्योति गांव की पहली ऐसी बेटी है जो भारत की सेना में शामिल हुई है। ज्योति असम से ट्रेनिंग पूरी करके शुक्रवार को जब अपने गांव बांडिया खापा पहुंची तो परिजनों सहित ग्रामीणों की खुशी का ठिकाना ना रहा। इस दौरान ग्रामीणों ने भारत माता की जय के गगनभेदी उद्घोष करते हुए ज्योति को फूल मालाओं से लाद कर भव्य स्वागत किया। इस अवसर पर ज्योति ने कहा कि अगर कोई ठान ले तो कुछ भी बन सकता है। 25 वर्षीय ज्योति पिछले 2 सालों से लगातार सेना में जाने के लिए तैयारी कर रही थी। अब पैरामिलिट्री फोर्स भूटान और नेपाल सीमा पर उसकी पोस्टिंग होगी। ज्योति ने बताया कि इस तैयारी के दौरान घरवालों ने उसका पूरा सहयोग किया। ज्योति ने कहा कि फिजिकल तैयारी पहले मानसिक तैयारी बहुत जरूरी थी, क्योंकि कुछ लोग बेटी को सेना में नहीं भेजना चाहते हैं, लेकिन उसके परिवार वालों ने इस मामले में उसकी पूरी मदद की और उसका मनोबल बढ़ाया।