नौतपा में झमाझम बारिश

मयंक भार्गव

बैतूल ३१ मई ;अभी तक;  यास चक्रवाती तूफान के असर से जिले के मौसम में आये बदलाव ने नौतपा को प्रभावित किया है। नौतपा के दौरान आसमान पर छाये बादलों एवं बौछारें पडऩे से दिन के तापमान में बढ़ोत्तरी नहीं हो रही है। रविवार शाम को बारिश होने से मौसम सुहाना हो गया।

सुबह मौसम सुहाना, दिन-रात में उमस

नौतपा के दौरान जिले के विभिन्न क्षेत्रों में तेज हवाओं के साथ बूंदाबांदी और हल्की बारिश होने से अलसुबह मौसम सुहाना रहता है। हालांकि 9-10 बजे से धूप पडऩे लगती है। बादलों से दिन के साथ ही रात में भी तेज उमस रहती है। रविवार को शाम लगभग 8 बजे से बारिश शुरू हो गई। जो लगभग 1 घंटे तक चलती रही। बारिश से गर्मी और उमस से राहत मिली है।

1 डिग्री उछला रात में पारा

नौतपा के दौरान दिन के तापमान में अपेक्षाकृत बढ़ोत्तरी नहीं हुई। नौतपा के छ: दिनों में अधिकतम तापमान 38 से 39 डिग्री के बीच ही रहा। जिससे दिन में भीषण गर्मी से राहत मिली। हालांकि न्यूनतम तापमान में दिन प्रतिदिन इजाफा होने से रात में तेज गर्मी पड़ रही है। बीते 24 घंटे के दौरान अधिकतम तापमान लगभग यथावत रहा परंतु रात में पारा 1 डिग्री उछला। 30 मई को बैतूल में अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री एवं न्यूनतम तापमान 26.2 डिग्री रहा। जबकि 29 मई को दिन में तापमान 38.5 डिग्री एवं 25.4 डिग्री था।

जून के दूसरे पखवाड़े में दस्तक देगा मानसून

मौमस के पूर्वानुमानों की मानें तो जून के दूसरे पखवाड़े में बैतूल जिले में मानसून दस्तक देगा। आजकल में मानसून के केरल पहुंचने की उम्मीद है। साथ ही जून के पहले सप्ताह में मानसून छत्तीसगढ़ राज्य में दस्तक देगा। इससे उम्मीद जताई जा रही है कि जून के पहले सप्ताह में प्री मानसून गतिविधियां शुरू हो सकती है तथा 15 से 20 जून के दौरान जिले में मानसून आ जायेगा।

आगामी दिनों में हल्की बारिश की संभावना

मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल द्वारा जारी मौसम बुलेटिन के मुताबिक 31 मई को तेज हवाओं एवं गरज-चमक के साथ हल्की हो सकती है। एक एवं दो मई को भी मौसम में बदलाव नहीं आने की संभावना जताई जा रही है।