पत्नि को लेकर कही ऐसी बात कि दोस्त ने ही ले डाली जान

भिंड से डॉ. रवि शर्मा-

भिंड २२ दिसंबर ;अभी तक; भिंड पुलिस ने मेहगांव में 12 दिन पहले हुए संतोष जैन हत्याकांड का पर्दाफाश कर दिया है। संतोष जैन का हत्यारा उसका ही दोस्त निकला है जो संतोष की हत्या के बाद से ही दुखी होने का नाटक कर रहा था और हर कार्यक्रम में आगे-आगे होकर शामिल हो रहा था। वारदात की वजह चौंका देने वाली है। आऱोपी ने बताया है कि संतोष जैन ने उसकी पत्नी को लेकर अश्लील टिप्पणी की थी जो उससे बर्दाश्त नहीं हुई और उसने उसकी हत्या कर डाली।

दोस्त ही निकला कातिल
भिंड एसपी शैलेन्द्र सिंह चौहान ने संतोष जैन हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि मेहगांव के रहने वाला संतोष जैन शेयर मार्केट का काम करता था जिसकी हत्या 29-30 नवंबर की रात को गला घोंटकर कर दी गई थी। संतोष की लाश पुलिस को 30 नवंबर को सड़क किनारे पड़ी मिली थी लेकिन उसका मोबाइल गायब था। साइबर सेल की मदद से पुलिस ने मोबाइल को ट्रेस किया तो कुछ ऐसे सुराग हाथ लगे कि पुलिस के हाथ आरोपी तक पहुंच गए। आरोपी मृतक संतोष का दोस्त रिंकू शिवहरे ही निकला है। पुलिस के मुताबिक आरोपी रिंकू शिवहरे ने पुलिस को गुमराह करने की पूरी कोशिश की वो वारदात के बाद से ही पुलिस की मदद करने में जुटा हुआ था। शव को भी पोस्टमार्टम हाउस तक ले गया और अंतिम संस्कार में भी शामिल हुआ था। 

 

मोबाइल ने खोला कातिल का राज
मामले का खुलासा करते हुए एसपी शैलेन्द्र सिंह चौहान ने बताया कि जब मृतक संतोष जैन के मोबाइल टॉवर की लोकेशन ट्रेस की तो पता चला कि मृतक के मोबाइल पर देर रात तक ट्रांजेक्शन फेल होने के मैसेज आते रहे थे। मोबाइल लोकेशन और शक के आधार पर जब पुलिस ने आरोपी रिंकू को उठाया तो पहले तो पुलिस को गुमराह करता रहा लेकिन सख्ती से पूछताछ पर उसने अपना जुर्म कबूल लिया। पुलिस के मुताबिक आरोपी रिंकू शिवहरे ने संतोष की मौत के बाद उसके मोबाइल से बैंकिंग फ्रॉड करने की भी कोशिश की थी लेकिन वो सफल नहीं हो पाया।

पत्नि पर की थी अश्लील टिप्पणी
आरोपी रिंकू शिवहरे ने पूछताछ में बताया कि संतोष ने उसकी पत्नी को लेकर अश्लील टिप्पणी की थी और यही बात उसे खल गई। उसने संतोष की हत्या की साजिश रची और प्लानिंग के तहत उसे शराब पीने के लिए बुलाया। कार में बैठकर शराब पी और जब संतोष नशे में चूर हो गया तो साथ लाई रस्सी से उसका गला घोंट दिया। आरोपी के पुलिस को बताया है कि उसने संतोष के मोबाइल को नाले में फेंक दिया था जिसकी बरामदगी की पुलिस कोशिश कर रही है।