पन्ना को मिनी स्मार्ट सिटी के तहत नगर को सुन्दर बनाने का कार्य करें..सड़कें क्रमशः उखाड़ कर बनायें-मंत्री बृजेन्द्र प्रताप

8:19 pm or September 14, 2021
पन्ना को मिनी स्मार्ट सिटी के तहत नगर को सुन्दर बनाने का कार्य करें..सड़कें क्रमशः उखाड़ कर बनायें-मंत्री बृजेन्द्र प्रताप


दिलीप शर्मा(दीपक)पन्ना।

पन्ना १४ सितम्बर ;अभी तक; /प्रदेश के खनिज साधन एवं श्रम मंत्री श्री ब्रजेन्द्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में समीक्षा के दौरान मंत्री श्री सिंह ने सड़क निर्माण से जुड़े विभागांे के अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिन सड़कों का पुर्ननिर्माण किया जा रहा है उन्हें क्रमशः उखाड़ कर बनायें, जिससे लोगों को आवागमन में असुविधा का सामना न करना पड़े। उन्होंने मिनी स्मार्ट सिटी के कार्यों कि समीक्षा करते हुये कहां कि योजना के तहत नगर को सुन्दर बनाने के निर्माण कार्य किया जाये। जिससे यहां आने वाले पर्यटक आकर्षित होने के साथ नगर मंे घूमें।

बैठक में सर्व प्रथम सड़कों के कार्य की समीक्षा की गई। इनमें राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजना की सड़कों की समीक्षा करते हुये। उन्होंने अमानगंज, पवई, कटनी, मार्ग पर चर्चा करते हुये कहां कि टिकरिया नगर से गुजरने वाली सड़क को इस तरह बनाया जाये कि नगर में व मार्ग पर कीचड़ ना हो। इस संबंध में बताया गया कि टिकरिया नगर के बाहर से बाइपास मार्ग का निर्माण किया जाना प्रस्तावित है। मंत्री श्री सिंह ने विभिन्न सड़कों के कार्यो की स्थिति के बारे में चर्चा करते हुये कहां कि वर्तमान में स्वीकृत सड़कों के निर्माण कार्य में कहीं भी किसी तरह की कठनाई हो तो मुझे अवगत करायें। जिससे कठनाई का निराकरण करा कर सड़कों का निर्माण तेजी से किया जा सके। बैठक में विभिन्न सिंचाई परियोजनाओं के संबध में चर्चा की गई। मंत्री श्री सिंह ने निर्देश दिये कि जो भी सिंचाई परियोजनायें बनाने के लिये प्रस्तावित की जाती है। उनमें इस बात का ध्यान रखा जाये कि अधिक से अधिक लोगों को लाभ हो सके। उन्होंने पन्ना नगर के पेयजल समस्या के संबंध में चर्चा करते हुये कहां कि किलकिला फीडर के कार्य को शीघ्र पूरा करें, जिससे तालाबों में पानी का भराव हो सके। इसी प्रकार उन्होंने निरपत सागर तालाब को भरने की कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिये। बैठक में जमुनिया, भितरीमुटमुरू, इटवां, लक्ष्मीपुर, सिरस्वाहा, बिलखुरा आदि तालाबों पर चर्चा की गई।

बैठक में मिनी स्मार्ट सिटी योजना के तहत किये जा रहे कार्यो के संबंध मंे चर्चा करते हुये निर्देश दिये कि मंदिरों के सौन्दर्यकरण के कार्य के साथ मंदिरांे मंे आवश्यकतानुसार मरम्मत का कार्य किया जाये। मंदिरों का सौन्दर्यकरण का कार्य आकर्षक किया जाये। नगर में जो भी सड़के बनायी जा रही हैं। उनके दोनो तरफ नालियों का निर्माण अनिवार्य रूप से किया जाये। इसी प्रकार तालाबों, पार्कों, मकबरों के जीर्णो उद्धार एवं सौन्दर्यकरण के कार्य को व्यवस्थित एवं आकर्षक बनाया जाये। बेैठक में विभिन्न शासकीय मंदिरों की जमीनों के संबंध मंे चर्चा की गई। इसके अलावा बैठक में विद्युत मंडल, नगरपालिका, कृषि विभाग, वर्षा की स्थिति मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र , विद्युत वितरण कम्पनी एवं कोविड वैक्सीन के लिये जिले में चलाये जा रहे अभियान एवं तैयारियों, खाद्य विभाग, राजस्व ग्राम घोषित कराने के कार्य वन एवं राजस्व भूमि विवाद निराकरण पर विस्तार पूर्वक चर्चा करते हुये समीक्षा की गई। सम्पन्न हुई बेैठक में कलेक्टर श्री संजय कुमार मिश्र, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री बाला गुरू के. वनमडलाधिकारी द्वय के साथ संबंधित जिला प्रमुख उपस्थित रहे।