पन्ना में गुनौर क्षेत्र के ग्राम झुमटा में कई बोरवेल उगल रहे ज्वलनशील गैस, दहशत में ग्रामवासी

2:33 pm or November 8, 2021
हमारे संवाददाता
पन्ना ८ नवंबर ;अभी तक; मध्यप्रदेश के पन्ना में गुनौर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम झुमटा में इस दिनों कई बोरवेल ज्वलनशील गैस उगल रहे है, तो वहीं एक बोरवेल में कई फ़ीट ऊची आग की लपटें उठ रही है। गैस ने अब आग पकड़ी ली है…ओर अब बोरवेल से पानी की जगह आग की लपटें निकल रही है। जहरीली ज्वलनशील गैस ओर आग के इस तांडव से अब झुमटा के ग्रामवासी दहशत में आ गए है। वहीं जिला प्रशासन ने बच्चों के स्कूल को अन्यत्र स्थापित कर दिया है और बोरवेल के पास वेरिकेट्स लगा दिए गए है। इसके अलावा झुमटा की राजस्व सीमा में प्रसासन द्वारा धारा 144 लगा दी गयी है।और लोगों को अफवाह न फैलाने की हिदायत दी गयी है। वहीं यहां लोगों में डर और जिज्ञासा को शांत करने के लिए पन्ना कलेक्टर संजय कुमार मिश्र एवं पुलिस अधीक्षक घर्मराज मीना सहित अन्य प्रशासनिक अमले ने मौके पर पहुंचकर लोगों की समस्याओं का निराकरण कर अफवाहों से बचने की समझाइश दी है।इसबीच कलेक्टर द्वारा झुमटा के गैस रिसाव की जाॅंच करने ओएनजीसी के वैज्ञानिकों के एक विशेष दल को बुलाया गया है जो कल सोमबार को पन्ना पहुच सकता है।
                    हीरों के लिए विख्यात पन्ना में अकूत खनिज संपदा भरी पड़ी है,ओर ऐसे में प्राकृतिक गेस के भंडार निकल पड़े तो सोने पर सुहागा हो सकता है। दर्शल पन्ना जिला मुख्यालय से करीब 35 किलोमीटर दूर ग्राम झुमटा में लगभग 15 दिन पहले शासकीय विद्यालय परिसर में पानी के लिए बोरवेल कराया जा रहा था। बोर के दौरान ज्वलनशील गैस निकलने के कारण आग लग गई थी।जिससे बोर मसीन भी जल गई थी।प्रशासन ने दमकल वाहनों की मदद से बोरवेल से निकल रही आग पर काबू पाया और देहरादून से विशेषज्ञों की एक टीम बुलवायी। विशेषज्ञों की टीम ने गैस और पानी का परीक्षण कर सुरक्षा की दृष्टि से बोर में एक बड़ी चिमनी लगाई है, जिसके ऊपरी भाग में 15 दिनों से अग्नि की लपटें निकलते हुए दिखायी देती है। लेकिन दो-तीन दिन पहले गांव के अन्य कई बोर से भी गैस रिसाव की सूचना प्राप्त होने पर  पन्ना कलेक्टर संजय मिश्रा एवं पुलिस अधीक्षक पन्ना धर्मराज मीना द्वारा ग्राम झुमटा पहुंचकर ग्राम वासियों की जन-चौपाल लगाकर ग्रामीणों की जन समस्याएं सुनी गईं। वहीं लोगों से सावधानी बरतने हेतु समझाइश देते हुए, गांव में जिस-जिस बोर से गैस निकल रही है उस से 10 फीट की दूरी बनाकर रखने तथा कोई भी ज्वलनशील वस्तु बोर के पास न ले जाने की समझाइश दी गई।
                     इस दौरान लोगों से किसी प्रकार की अफवाह ना फैलाने की अपील करते हुए लोगों को जानकारी दी गई कि प्रशासन की ओर से उच्च  स्तरीय बात चल रही है, ओर ओएनजीसी की एक विशेष टीम सोमवार को झुमटा ग्राम पहुंच रही है तथा इस क्षेत्र के जितने भी बोर हैं, सभी का सर्वे कराया जाएगा।जिस बोर से गैस रिसाव हो रहा है उन पर भी सुरक्षा व्यवस्था की जाएगी। विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों को अन्य विद्यालय में रखा जाएगा या प्राइवेट भवन लेकर विद्यालय संचालित किए जाएंगा। ग्राम वासियों को आवश्यकतानुसार पानी के टैंकरों से पेयजल पहुंचाया जाएगा। साथ ही स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार गांव में कैंप करके प्रत्येक व्यक्ति का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाएगा। गैस का रिसाव कुछ दिनों बाद धीरे-धीरे बंद हो जाएगा। आम जनता को घबराने की जरूरत नहीं है। प्रशासन आपके साथ हमेशा सहयोग में रहेगा।
                  पुलिस अधीक्षक पन्ना धर्मराज मीना ने कहा कि कोई परेशान न हो बोरवेल के पास न जाये वेरिकेट्स लगा दिए गए है,कोई अफवाह न फैलाये,धीरे धीरे गैस खत्म हो जाएगी कोई परेशानई की बात नही है।
                   कलेक्टर पन्ना संजय कुमार मिश्रा ने कहा कि झुमटा की सम्पूर्ण राजस्व सीमा में धारा 144 लगा दी गयी है कोई अवहेलना न करे। उन्होंने बताया की  ओएनजीसी की एक विशेष टीम सोमवार को झुमटा ग्राम पहुंच रही है तथा इस क्षेत्र के जितने भी बोर हैं, सभी का सर्वे कराया जाएगा।जिस बोर से गैस रिसाव हो रहा है उन पर भी सुरक्षा व्यवस्था की जाएगी। विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों को अन्य विद्यालय में रखा जाएगा या प्राइवेट भवन लेकर विद्यालय संचालित किए जाएंगा। ग्राम वासियों को आवश्यकतानुसार पानी के टैंकरों से पेयजल पहुंचाया जाएगा। साथ ही स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार गांव में कैंप करके प्रत्येक व्यक्ति का स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाएगा। गैस का रिसाव कुछ दिनों बाद धीरे-धीरे बंद हो जाएगा। आम जनता को घबराने की जरूरत नहीं है। प्रशासन आपके साथ हमेशा सहयोग में रहेगा।