पर्यटन के 52 सप्ताह 52 इवेंट्स की व्यापक स्तर पर करें मार्केटिंग ; मुख्यमंत्री श्री चौहान

7:17 pm or December 30, 2021

 सौरभ तिवारी

होशंगाबाद  ३० दिसंबर ;अभी तक;  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि होशंगाबाद में पर्यटन की अनंत संभावनाएं मौजूद हैं। पचमढ़ीतवासतपुड़ा आदि पर्यटन स्थल अद्भुत हैं। होशंगाबाद की प्राकृतिकधार्मिक, सांस्कृतिक एवं ऐतिहासिक समृद्धता से दुनिया को रूबरू कराएं। व्यापक स्तर पर इसकी मार्केटिंग की जाए,जिससे होशंगाबाद पर्यटन के क्षेत्र में विश्व पटल पर अपना नाम अंकित करा सके। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज होशंगाबाद जिले के पचमढ़ी में रविशंकर भवन में होशंगाबाद जिला प्रशासन द्वारा बनाए गए डिस्ट्रिक्ट टूरिज्म प्लान का विस्तार से अवलोकन किया। कलेक्टर होशंगाबाद श्री नीरज कुमार सिंह द्वारा मुख्यमंत्री श्री चौहान को आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश अभियान के तहत होशंगाबाद जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए बनाए गए 52 सप्ताह 52 इवेंट्स के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।

सांध्य गतिवधियों को प्रमोट करे

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि होशंगाबाद आने वाले सैलानियों के लिए दिन की गतिविधियों के साथ पर्यटन की सांध्य गतिविधियां भी आयोजित करे। पर्यटन की दृष्टि से शाम का समय बहुत महत्वपूर्ण होता है। सांध्य गतिविधियां क्या क्या हो सकती हैइसकी संभावनाएं तलाशे। बेहतर प्लानिंग कर पीपीपी मोड में इन गतिवधियों को प्रमोट करें। शाम के समय लोक नृत्य लाइट एंड शो आर्मी बैंड जैसी गतिविधियां प्लान करें।

चौरागढ़ मंदिर के लिए केबल कार का प्रस्ताव बनाएं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि चौरागढ़ मंदिर जाने के लिए केबल कार का प्रस्ताव भेजा जाए। केबल कार से धार्मिक पर्यटकों को एक अलग अनुभव प्राप्त होगा। पर्यटक यहां की पहाड़ियोंदुर्लभ वनस्पतियों आदि प्राकृतिक सुंदरता का लुत्फ उठा सकेंगे। उन्होंने कहा कि पचमढ़ी में गोल्फ खेल को बढ़ावा देने की भी अपार संभावना है। गोल्फ खेल का आयोजन भी पर्यटकों को आकर्षित करेगा।

जनजातीय गौरव राजा विभूत सिंह के स्थान को आकर्षण का केंद्र बनाएं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश आजादी की लड़ाई में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले वीर जनजातीय नायकों की जन्मस्थली हैं। यह हमारे लिए गौरव का विषय हैं। जनजातीय नायकों को पूरा सम्मान देना और भावी पीढ़ी को उनकी वीरगाथाओ से अवगत कराना हमारा दायित्व हैं। उन्होंने कहा कि मड़ई के पास स्थित जनजातीय गौरव राजा विभूत सिंह के स्थान को आकर्षण का केंद्र बनाएं। राजा विभूत सिंह की मूर्ति स्थापित की जाए और यहां उनके इतिहास को उल्लेखित किया जाए।

धार्मिक पर्यटन का एकीकृत रूट बनाएं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि होशंगाबाद धार्मिक पर्यटन की दृष्टि से समृद्ध हैं। चौरागढ़बड़ामहादेवबांद्राभानसेठानीघाटरामजी बाबा समाधिसलकनपुर आदि धार्मिक पर्यटन स्थलों का एकीकृत रूट बनाएं। जिससे पर्यटक एक दिन में इन स्थलों पर पहुंच सके। उन्होंने कहा कि चौरागढ़ मंदिरबड़ा महादेवपांडव गुफा आदि में यहां से जुड़ी भगवान शिव की कथाओं को भी उल्लेखित किया जाए।

पचमढ़ी की जैव विविधता अद्वितीय है

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि होशंगाबाद ऐतिहासिक दृष्टिकोण से भी समृद्धशाली है। मानव सभ्यता के इतिहास एवं उनकी विकास यात्राशैल चित्रकला आदि का प्रभावी ढंग से प्रचारित की जाए। ऐसे स्थानों की जानकारियों के डिस्प्ले बोर्ड भी लगाया जाए। उन्होंने कहां कि पचमढ़ी की जैव विविधता अद्वितीय है। यहां के वृक्ष प्राकृतिक सौंदर्यता के साथ अपना औषधीय  महत्व भी रखते हैं।

होशंगाबाद को धार्मिक पर्यटन का केंद्र बनाएं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मां नर्मदा के किनारे स्थित होशंगाबाद प्रदेश का सबसे प्रमुख शहर हैं। यहां का सेठानी घाट धार्मिक आस्था का केंद्र बिंदु है। सेठानी घाट पर प्रतिदिन मां नर्मदा की महाआरती किए जाना प्रस्तावित करें। उन्होंने कहा कि होशंगाबाद को धार्मिक पर्यटन का केंद्र बनाया जाए।

52 सप्ताह 52 इवेंट जनवरी में करे लॉन्च

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा बनाए गए 52 सप्ताह 52 एजेंट को जनवरी माह में ही व्यापक स्तर पर लॉन्च किया जाए। होशंगाबाद जिले में बड़े पैमाने पर टूरिज्म गतिविधियों को प्रमोट करने के लिए पर्यटनसंस्कृति एवं जनसंपर्क विभाग को भी शामिल किया जाए। इन गतिविधियों के शुभारंभ पर लोकप्रिय कलाकारों जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाए। इन गतिविधियों को मूर्त रूप देने के लिए असाधारण प्रयास किए जाए। जिले में पर्यटन के माध्यम से रोजगार का सृजन हो सके।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चंपक झील का किया अवलोकन

बैठक के पश्चात मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अधिकारियों के साथ चंपल झील का अवलोकन कर यहां प्रस्तावित कैंपिंग गतिविधि के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कैंपिंग गतिविधि का साधारण वर्ग भी आनंद ले सके। उन्होंने चंपक झील के गहरीकरण और सौंदर्यीकरण किए जाने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि चंपक झील को स्वच्छता की मिसाल बनाएं।

इस दौरान कमिश्नर नर्मदापुरम मालसिंहपुलिस महानिरीक्षक श्रीमती दीपिका सूरीफील्ड डायरेक्टर एस टी आर एल कृष्णमूर्ति कलेक्टर होशंगाबाद नीरज कुमार सिंहपुलिस अधीक्षक डॉ गुरकरण सिंह उपस्थित रहे।