पर्यावरण के प्रति जागरूक करने निकाली रैली, पौधारोपण कर लिया सुरक्षा का संकल्प

9:55 pm or June 5, 2022

प्रहलाद कछवाहा

मंडला ५ जून ;अभी तक;   ग्रामीण जीवन में पयार्वरण और पारिस्थितिक सेवाओं का अति महत्व है। वहीं प्राकृतिक संसाधन नदी, नाला, तालाब, खेत खलिहान, चारागाह भूमि, जंगल आदि ग्रामीण जीवन के लिए अमूल्य हैं। आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र के पारंपरिक ज्ञान को जानने की जरूरत है। जिससे पर्यावरण को संरक्षित करने में मदद मिल सकती है। प्रत्येक वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर सरकारी व गैर सरकारी संगठनों, संस्थाओं द्वारा पौधारोपण किया जाता है। यदि इन रोपित पौधों को रोपण करने वाला संकल्प के साथ पौधारोपण करें तो हमारी धरती हरियाली की चादर बहुत ही कम समय में ओढ़ सकती है, लेकिन लोग सिर्फ पौधारोपण करते है, उसे संरक्षित और सुरक्षित करने का संकल्प सिर्फ पौधारोपण करते समय तक ही सीमित रहता है।

                                विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर जिले भर में समाजसेवी संस्था द्वारा पौधारोपण कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसी के अंतर्गत विकासखंड नारायणगंज में राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के मास्टर ट्रेनर द्वारा  विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया। इस अवसर पर पर्यावरण के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए उत्कृष्ट स्कूल पडरिया से ग्राम पंचायत पटेहरा तक जागरूकता रैली निकाली। इस दौरान मास्टर ट्रेनर, साथिया, आंगनवाड़ी वर्कर, आशा एवं जन अभियान परिषद की विकासखंड समन्वयक एवं जनपद पंचायत त्रिस्तरीय अधिकारी सचिव एवं ग्राम विकास प्रस्फुटन समिति के सदस्य उपस्थित रहे।  जागरूकता रैली के बाद  पौधारोपण किया गया। रोपित किए गए पौधों की सुरक्षा का संकल्प दिलाया गया। इसके साथ ही पर्यावरण जागरूकता के लिए प्रतियोगिता आयोजित कराई गई। जिसमें 100 मीटर दौड़ प्रतियोगिता आयोजित की गई।  इस दौरान मौजूद किशोर, किशोरी साथिया के साथ पर्यावरण पर चर्चा की गई। कार्यक्रम में मास्टर ट्रेनर इंद्रा उइके, दुर्गेश रजक, विकासखंड समन्वयक पुष्पा तेकाम, ग्रामीण प्रस्फुटन समिति सचिव अध्यक्ष राकेश अग्रवाल, वीरेंद्र अग्रवाल एवं चंद्रकला पटेल समेत साथिया समेत ग्रामीण मौजूद रहे।