पशुपालक पशुओं में लम्पी स्किन डिसीज दिखाई देने पर नजदीकी पशु चिकित्सालय / पशु औषद्यालय से संपर्क करें – उप संचालक

सौरभ तिवारी
होशंगाबाद ३ सितम्बर ;अभी तक;  उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉक्टर जितेन्द्र कुल्हारे ने बताया कि जिले के विकासखण्ड केसला, पिपरिया एवं बनखेडी के कुछ ग्रामों में मुख्य रूप से गौवंशी पशओं में एक नई बीमारी का प्रकोप देखने में आ रहा है, बीमारी में पशुओ के शरीर की त्वचा पर गठाने बन जाती है। पशुओ को बुखार आता है साथ ही दुधारू पशुओ के दुग्ध उत्पादन में कमी आ जाती है। कुछ गठानो से मवाद भी आता है। इस बीमारी को लम्पी स्किन डिसीज के नाम से जाना जाता है, जो कि एक वीषाणु जनित बीमारी है। जो मच्छर, मक्खी एवं किलोनी के द्वारा फैलती है।
                 उप संचालक ने बताया कि पशुओ के शरीर पर गठाने लंबे समय तक रहती है, इस बीमारी में पशु मृत्यु दर बहुत कम 1-2 प्रतिशत ही रहती है। उन्होने कहा है कि पशु पालको को घबराने की आवश्यकता नहीं है। पशुओ में इस प्रकार के रोग के लक्षण दिखाई देने पर तत्काल अपने निकटतम पशु चिकित्सालय/पशु औषद्यालय से संपर्क करें। उप संचालक ने सभी पशु पालको से आग्रह किया है कि वे इस रोग से ग्रसित पशुओ को स्वस्थ्य पशुओं से अलग रखें। पशुओ के शेड या बांधने के स्थान पर साफ सफाई रखी जाए साथ ही मच्छर, मक्खी को दूर भगाने हेतु नीम की पत्ती का धुंआ करें और पशुओ के शरीर पर किलोनियो का प्रकोप न होने दें।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *