पहाड़ी क्षेत्रों में हुई तेज बारिश से सतपुड़ा जलाशय के तीन गेट खोले

मयंक भार्गव

बैतूल १८ जून ;अभी तक;  मानसून की मेहरबानी से जिले के शहरी सहित ग्रामीण इलाकों में रूक रूककर बारिश का सिलसिला जारी है। बुधवार-गुरूवार की दरम्यानी रात सारणी, घोड़ाडोंगरी, शाहपुर के पहाड़ी इलाकों में हुई तेज बारिश से नदी-नालों में उफान आ गया। नदी नालों में आयी बाढ़ का पानीी सतपुड़ा जलाशय सारणी में संग्रहित होने से डेम का जलस्तर अचानक तेजी से बढऩे लगा। जिसके चलते रात 12 बजे से सतपुड़ा जलाशय के तीन गेट 3-3 फीट तक खोलकर पानी छोड़ा गया। तेज बारिश एवं जलाशय से छोड़े गए पानी से शाहपुर, भौंरा के समीप स्थित सूखी धार नदी में बाढ़ आ गई जिससे रात्रि लगभग तीन बजे से सुबह 9 बजे तक हाईवे पर आवागमन ठप्प हो गया। नदियों से बाढ़ उतरने के बाद धीरे-धीरे आवागमन शुरू हुआ। हाईवे पर बार-बार जाम लगने से गुरूवार दोपहर करीब 1 बजे यातायात पटरी पर आ सका।

तीन-तीन फीट खोले डेम के गेट

सारणी के आसपास के पहाड़ी इलाकों में हुई जोरदार बारिश से नदी-नालों में आई बाढ़ का पानी सतपुड़ा जलाशय सारणी में एकत्रित होने लगा जिससे जलाशय के जलस्तर में अचानक तेजी से बढ़ोत्तरी होने लगी। जल स्तर को मेंटन करने के लिए रात 12 बजे सतपुड़ा जलाशय के तीन गेट तीन-तीन फीट खोलकर पानी छोड़ा गया। गुरूवार शाम तक सतपुड़ा जलाशय का एक गेट तीन फीट खुला हुआ था।

दोपहर 1 बजे पटरी पर आया यातायात

सूखी-धार नदी में आई बाढ़ से रात्रि करीब तीन बजे भोपाल, नागपुर हाईवे पर यातायात बंद हो गया था जिससे हाईवे के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गई थी। गुरूवार करीब 9 बजे बाढ़ का पानी उतरने के बाद धीरे-धीरे यातायात शुरू हुआ। परंतु बार-बार जाम लगने से यातायात अवरूद्ध हो रहा था। शाहपुर थाना एवं भौंरा पुलिस चौकी के पुलिस कर्मियों को यातायात बहाल करने में खासी मशक्कत करनी पड़ी। जिसके बाद दोपहर लगभग 1 बजे हाईवे पर यातायात पटरी पर आया।

भैंसदेही में हो गई मौसम की एक चौथाई बारिश

बैतूल जिले में मानसून के जल्दी आने एवं बीते एक सप्ताह से रूक रूककर  बारिश होने से जिले में औसत बारिश का आंकड़ा 6.35 इंच पहुंच गया है। जिले के भैंसदेही क्षेत्र में वर्षाकाल में जिले में होने वाली औसत बारिश की एक चौथाई बारिश हो चुकी है। भैंसदेही में सर्वाधिक 10.76 इंच बारिश तथा प्रभात पट्टन में सबसे कम 1.82 इंच बारिश हुई है। जबकि बैतूल में 6.73 इंच बारिश रिकार्ड की गई है। वर्षाकाल में बैतूल जिले की औसत सामान्य बारिश 43.35 इंच है। गत वर्षाकाल में जिले में 49.48 इंच बारिश हुई थी।

1.28 लाख हेक्टेयर में हुई बोवनी

पूर्वानुमानों के लगभग एक सप्ताह पूर्व बैतूल जिले में मानसून का आगाज होने एवं रूक-रूककर जिले भर में बारिश होने से मृग नक्षत्र में खरीफ सीजन फसलों की बोवनी शुरू हो गई है। कृषि विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक 17 जून तक जिले में लगभग 1 लाख 28 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में बोवनी हो चुकी है। जो कि बोवनी के लक्ष्य का 31 फीसदी है। कृषि विभाग बैतूल ने जिले में खरीफ सीजन में 4 लाख 15 हजार हेक्टेयर में बोवनी का लक्ष्य निर्धारित किया है।