पांच सरपंच/प्रधान पद से पृथक तहसीलदार न्यायालय में वसूली के प्रकरण दर्ज किए गए

मयंक भार्गव

बैतूल, 29 सितंबर ;अभी तक;  कलेक्टर श्री अमनबीर सिंह बैंस द्वारा ग्राम पंचायतों में सरपंच/प्रधान प्रशासकीय समिति द्वारा निर्माण कार्यों में वित्तीय अनियमितता किए जाने तथा मप्र पंचायती राज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम 1993 की धारा 92 के तहत अधिरोपित वसूली राशि जमा नहीं करने के फलस्वरूप जनपद पंचायत बैतूल अंतर्गत पांच ग्राम पंचायत सरपंचों/प्रधानों को पद से पृथक करने की कार्रवाई की गई है। इसके साथ ही तहसीलदार न्यायालय में वसूली के प्रकरण भी दर्ज किए गए हैं।

सीईओ जिला पंचायत श्री अभिलाष मिश्र से प्राप्त जानकारी के अनुसार जनपद पंचायत बैतूल अंतर्गत ग्राम पंचायत बांसपानी की सरपंच/प्रधान प्रशासकीय समिति श्रीमती केवल बाई कापसे के विरूद्ध धारा 92 में दर्ज प्रकरण तहत 6 लाख एक हजार 473 रूपए राशि अधिरोपित किए जाने पर पद से पृथक किया गया है। इसी प्रकार ग्राम पंचायत मोवाड़ के सरपंच/प्रधान प्रशासकीय समिति श्री शिवराम घंगारे पर 3 लाख 99 हजार 888 रूपए, ग्राम पंचायत नीमझिरी की सरपंच/प्रधान प्रशासकीय समिति श्रीमती मीणा कुमरे पर एक लाख 46 हजार 890 रूपए, ग्राम पंचायत रोंढा की सरपंच/प्रधान प्रशासकीय समिति श्रीमती मालती बाई काकोडिय़ा पर 60 हजार 875 रूपए एवं ग्राम पंचायत सोहागपुर के सरपंच/प्रधान प्रशासकीय समिति श्री संजय धोटे पर 43 हजार रूपए राशि की वसूली अधिरोपित होने पर पद से पृथक करने की कार्रवाई की गई है।

सीईओ श्री मिश्र ने बताया कि उक्त सभी प्रकरणों में तहसीलदार बैतूल के न्यायालय में वसूली के प्रकरण दर्ज किये गये हैं।