पानी के संकट को दूर करने के लिए 1.72करोड़ रुपए की जलावर्धन योजना का काम शुरू

भिण्‍ड से डॉ. रवि शर्मा-

भिंड २१ मार्च ;अभी तक; शासन से मंजूरी मिलने के बाद अटेर और मुकटपुरा गांव में पानी के संकट को खत्म करने के लिए 1.72करोड़ रुपए की जलावर्धन योजना का काम शुरू हो चुका है। योजना के तहत इन गांवों में लोगों को शुद्ध पेयजल मुहैया कराने के लिए पेयजल पाइप लाइन बिछाई ने का काम किया जा रहा है। इसके साथ ही स्कीम बोर और ओवरहेड टैंक का निर्माण कराया जाएगा। गौरतलब है कि अटेर में करीब 50 वर्ष पूर्व नलजल योजना के दौरान पानी की सप्लाई के लिए पाइप लाइन बिछाई गई थी। लेकिन देखरेख नहीं होने से वह कुछ सालों में ही क्षतिग्रस्त हो गई। जिसके बाद अटेर सहित मुकटपुरा गांव में पानी का संकट बना हुआ था।

वहीं दोनों गांव के पांच हजार लोगों को पेयजल के लिए हैंडपंप और कुंओं पर भटकना पड़ता है। जलावर्धन योजना का काम शुरू करने के लिए फरवरी माह में लोक स्वास्थ्य यांत्रकीय विभाग उपखंड भिंड के सहायक यंत्री सतेंद्र सिंह भदौरिया, उपयंत्री केएन शर्मा ने सर्वे किया था।

एक लाख लीटर क्षमता की टंकी बनेगी

अटेर और मुकटपुरा गांव की आबादी को पानी मुहैया कराए जाने को लेकर अटेर कस्बे के बाहर एक लाख लीटर से अधिक क्षमता वाली एक पानी की टंकी का निर्माण कराया जाएगा। साथ ही घरों में पानी की सप्लाई के लिए पानी की पाइप लाइन बिछाई जाएगी। जिसके लिए विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं।

9 किमी में बिछाई जाएगी पाइप लाइन

जलावर्धन योजना का काम 1.72 करोड़ की लागत से पूरा होना है। वहीं पानी की टंकी निर्माण के साथ पानी की सप्लाई के लिए 9 किमी एरिया में पाइप लाइन बिछाई जाएगी। इसके अलावा लोगों को नवीन नल कनेक्शन दिए जाएंगे। लेकिन कनेक्शन उन लोगों को ही दिए जाएंगे, जिनके पास उनका आधार कार्ड होगा।

छह माह में पूरा कर लिया जाएगा काम

जलावर्धन योजना के तहत काम को शुरू किए हुए अभी कुछ रोज ही हुए हैं। लेकिन आगामी 6 माह में काम पूरा कर लिया जाएगा। जिसके बाद अटेर और मुकटपुरा गांवों के पांच हजार लोगों को पीने के लिए शुद्घ पानी उपलब्ध हो सकेगा। – अनीस खान, ठेकेदार, लोकस्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग

 

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *